गोवाः पर्रिकर का शक्तिपरीक्षण आज

इस ख़बर को शेयर करें:

गोवा में मनोहर पर्रिकर आज विधानसभा में अपना बहुमत साबित करेंगे। मनोहर पर्रिकर ने मंगलवार को मुख्यमंत्री का पद संभाला था और सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के अनुसार उन्हें आज अपना बहुमत साबित करना है। पर्रिकर ने भरोसा जताया है कि वह आसानी से बहुमत साबित कर देंगे। मंगलवार को राज्य के मुख्यमंत्री की शपथ लेने के बाद बुधवार को मनोहर पर्रिकर ने गोवा के मुख्यमंत्री के तौर पर कार्यभार संभाल लिया। पर्रिकर चौथी बार राज्य के मुख्यमंत्री बने हैं।

सीएम की कुर्सी संभालने के बाद पर्रिकर को सबसे पहले विधानसभा में बहुमत साबित करना है जिसके लिए सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार सुबह 11 बजे का समय नियत किया है । पर्रिकर का दावा है कि सरकार आसानी से बहुमत हासिल कर लेगी।गुरुवार को होने वाले शक्ति परीक्षण को सुचारु रुप से चलाया जा सके इसलिए भाजपा के विधायक सिद्धार्थ कुंसालिएंकर को राज्य विधानसभा का प्रोटेम स्पीकर मनोनीत कर दिया गया है।

दरअसल विधानसभा चुनाव में 40 सदस्यीय विधानसभा में किसी भी दल को बहुमत नहीं मिला। चुनावी नतीजों में भाजपा 13 सीटों के साथ दूसरे और कांग्रेस 17 सीटों के साथ पहले नंबर पर रही लेकिन भाजपा ने रविवार को राज्यपाल से मिल कर उन्हें 21 विधायकों का समर्थन दिखाया और सरकार बनाने का दावा भी पेश किया।

इस बीच एक और निर्दलीय विधायक द्वारा भाजपा सरकार का समर्थन करने के साथ ही सत्तापक्ष के कुल विधायकों की संख्या अब 22 हो गई है। इस बीच गोवा में कांग्रेस के विधायक विश्वजीत राणे ने पार्टी के तमाम बड़े नेताओं की काबिलियत पर सवालिया निशाना साधते हुए कहा कि केंद्रीय नेतृत्व के ढुलमुल रवैये और शिथिलता के कारण जीत कर भी गोवा में सरकार बनाने का मौका गवाना पड़ा। तमाम घमासान के बीच अब सबकी नजरें विधानसभा में होने वाले शक्ति परीक्षण पर टिकी है जिसके बाद ही राज्य में स्थिर सरकार तेजी से आगे बढेगी ।