गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेल: तैराकी में सबकी नज़र श्रीहरि नटराज पर

इस ख़बर को शेयर करें:

4 अप्रैल से गोल्ड कोस्ट में होने जा रहे 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में इस बार भारत के एक युवा तैराक से पदक की उम्मीद है। हाल ही में संपन्न खेलो इंडिया स्कूल गेम्स में उन्होंने 6 गोल्ड मेडल जीते साथ ही वे तीन राष्ट्रीय रिकॉर्ड भी बना चुके हैं।

राष्ट्रमंडल खेलों की तैराकी स्पर्धा में जिस एक युवा पर सब की नजर है वह है बंगलुरू के श्रीहरि नटराज। श्रीहरि नटराज सभी तीन बैक स्‍ट्रोक 50 मीटर, 100 मीटर और 200 मीटर में राष्‍ट्रीय रिकॉर्ड बना चुके हैं। कर्नाटक का यह लड़का जय हिंद कॉलेज बेंगलुरू का प्रतिनिधित्‍व करता है उनकी प्रतिभा को देखते हुए उन्हें इस वक्त देश का सर्वश्रेष्‍ठ पुरूष तैराक घोषित किया गया है।

महान तैराक माइकल फैल्‍प्‍स के मुरीद श्रीहरि का कहना है कि वे खुद अपना लक्ष्‍य तय करना चाहते हैं और उनकी निगाहें इस वर्ष नवम्‍बर में ब्‍यूनस आयर्स में होने वाले यूथ ओलम्पिक और उसके बाद 2020 के टोक्‍यो ओलम्पिक पर टिकी हुई है। उनका दीर्घकालिक लक्ष्‍य पेरिस में 2024 में होने वाले ओलम्पिक में पदक जीतना है। हाल ही में संपन्न हुई खेलो इंडिया स्कूल गेम्स में गुरू जयराज की देखरेख में तैराक श्रीहरि नटराज ने छह स्वर्ण और एक रजत पदक के साथ अपने ऐतिहासिक सफर को पूरा किया था।

राष्ट्रीय तैराकी प्रतियोगिता में चार गोल्ड मेडल जीतने के बाद से वे देश के शीर्ष तैराक बन गये हैं तो क्या गोल्ड कोस्ट में होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों में यह युवा खिलाड़ी वही प्रदर्शन दोहरा पाने में कामयाब होंगे।यह उनकी अब तक की सबसे बड़ी चुनौती होगी।राष्ट्रमंडल खेलों में उनकी सफलता ही तय करेगी कि आने वाले समय में वह ओलंपिक या एशियाई खेलों में पदक के दावेदार बन पायेंगे या नही।