नौकरशाही में प्रवेश के लिए सरकार ने किया बड़ा बदलाव

इस ख़बर को शेयर करें:

प्रशासन में सभी निजी क्षेत्रों से कुशल पेशेवर व्यक्तियों के अनुभवों का लाभ उठाने के लिए सरकार ने विभिन्न विभागों में संयुक्त सचिव स्तर के अधिकारियों की अनुबंध के आधार पर नियुक्ति के लिए आवेदन किए आमंत्रित

मोदी सरकार ने नौकरशाही में प्रवेश पाने के लिए बड़ा बदलाव किया है। अब राज्य या केंद्रशासित प्रदेश के अधिकारी, सार्वजनिक उपक्रम, विश्वविद्यालय और शोध संस्थानों में काम करने वाले या निजी क्षेत्र में उच्च पदों पर संबंधित विषय में 15 वर्ष का अनुभव रखने वाले सरकार में अनुबंध के आधार पर संयुक्त सचिव के पद पर काम कर सकेंगे।

ये अनुबंध तीन वर्ष और बढ़ाए जाने पर अधिकतम पांच वर्ष के लिए होगा। बहुप्रतीक्षित लैटरल एंट्री की औपचारिक अधिसूचना सरकार की ओर से जारी कर दी गई है।

सरकार अब इसके लिए सर्विस रूल में जरूरी बदलाव भी करेगी। पीएमओ में राज्यमंत्री जितेंद्र सिंह ने विभिन्न विभागों में बतौर जॉइंट सेक्रटरी 10 पदों के लैटरल एंट्री से जुड़ी अधिसूचना पर कहा कि इससे उपलब्ध स्रोतों में से सर्वश्रेष्ठ को चुनने का मौका मिलेगा।