त्योहारों पर महामारी की मार झेल रही जनता को शासन द्वारा जारी गाईड लाइन का कडाई से पालन हेतु अधिकारियों का संयुक्त फ्लैग मार्च

जबलपुर। कलेक्टर जबलपुर कर्मवीर शर्मा (भा.प्र.से.) एवं पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा आज कलेक्ट्रेट से प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों का एक संयुक्त फ्लैग मार्च रवाना किया गया। फ्लैग मार्च रवाना करते समय द्वय अधिकारियों ने बताया कि त्यौहारो के दौरान शासन के द्वारा जारी गाईड लाइन का पालन सुनिश्चित कराना फ्लैग मार्च का मुख्य उद्देश्य है।

प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों के संयुक्त फ्लैग मार्च के लिये कई टीमे गठित की गई हैं, ये टीमे अपने-अपने क्षेत्रों का भ्रमण करेगी तथा यह देखेंगी कि कोरोना के संक्रमण से बचान के त्यौहारो के लिये शासन द्वारा जारी गाईड लाईन और दिशा निर्देशो का पालन सुनिश्चित किया जा रहा है अथवा नहीं, साथ ही कोविड-19 प्रोटोकाल का सख्ती से पालन कराने तथा मास्क लगाने और दो गज की दूरी बनाये रखने के लिये लोगो को जागरूक करना भी इस फ्लैग मार्च का उद्देश्य है।

 

सभी टीमों को कन्टेनमेंट जोन का फ्लैग मार्च के दौरान भ्रमण करने हुये निरीक्षण करने तथा मैदानी स्तर पर कोरोना के नियंत्रण की दिशा में किये जा रहे कार्यो की समीक्षा करने हेतु भी निर्देशित किया गया। इन टीमों ने अपने-अपने क्षेत्रों का भ्रमण किया। कलेक्टर कर्मवीर शर्मा और पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा भी फ्लैग मार्च में शामिल हुए।

कलेक्टर और एसपी ने घमापुर, ललित कालोनी, रद्दी चौकी, मछली मार्केट, शीतलामाई एवं सदर क्षेत्र का भ्रमण किया। इस बीच दोनों अधिकारियों ने सदर स्थित पासी मोहल्ला में बनाये गये कंटेनमेंट जोन का निरीक्षण किया तथा कंटेनमेंट की पाबंदियों का सख्ती से पालन कराने के निर्देश अधिकारियों को दिये।

कलेक्टर शर्मा ने बताया कि त्यौहारों के दौरान शासन द्वारा जारी गाईड लाइन का पालन सुनिश्चित कराना फ्लैग मार्च का प्रमुख उद्देश्य था। उन्होंने बताया कि कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन कराने तथा मास्क लगाने और दो गज की दूरी बनाये रखने के लिए लोगों को जागरूक करना भी फ्लैग मार्च का उद्देश्य था। कलेक्टर ने कहा कि सभी टीमों को उनके क्षेत्र के कन्टेनमेंट जोन का फ्लैग मार्च के दौरान निरीक्षण करने तथा मैदानी स्तर पर कोरोना के नियंत्रण की दिशा में हो रहे कार्यों तथा इसके लिए तैनात किये गये अमले से फीडबैक लेने के निर्देश भी दिये गये थे।