गुजरात उच्च न्यायालय ने जकिया जाफरी की याचिका खारिज की

इस ख़बर को शेयर करें:

साल 2002 के गुलबर्ग सोसायटी मामले में गुजरात उच्च न्यायालय ने ज़ाकिया जाफरी की याचिका को ख़ारिज कर दिया। निचली अदालत ने भी एसआईटी के क्लीन चिट के फैसले को बरकरार रखा था। साथ ही अदालत ने जाफरी को सर्वोच्च न्यायालय में याचिका दायर करने की अनुमति भी दी।

गुजरात उच्च न्यायालय जकिया जाफरी की उस याचिका को खारिज कर दिया जिसमें उन्होंने 2002 में गोधरा कांड के बाद हुए दंगों के संबंध में विशेष जांच दल द्वारा कुछ लोगों को दी गई क्लीन चिट को बरकरार रखने के निचली अदालत के फैसले को चुनौती दी गई थी।

न्यायमूर्ति सोनिया गोकानी के सामने इस याचिका पर सुनवाई इस साल तीन जुलाई को पूरी हुई थी। याचिका में मांग की गई कि वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों एवं नौकरशाहों को साजिश में कथित रूप से शामिल होने के लिए आरोपी बनाया जाए। इसमें इस मामले की नये सिरे से जांच के लिए उच्च न्यायालय के निर्देश की भी मांग की गई।