‘हमारा घर – हमारा विद्यालय योजना’ – कक्षा 1 से 8 के लिए हमारा घर हमारा विद्यालय योजना सञ्चालन की जानकारी

कक्षा 1 से 8 के लिए हमारा घर हमारा विद्यालय योजना सञ्चालन की जानकारी – राज्य शिक्षा केन्द्र द्वारा दिनांक 03/07/2020 को कक्षा 1 से 8 के लिए ‘हमारा घर हमारा विद्यालय’ कार्यक्रम की कार्ययोजना जारी की गई है. पूरी जानकारी के लिए पोस्ट को अंत तक पढ़िए.
कक्षा 1-8 में संचालन की योजना
राज्य शिक्षा केन्द्र व स्कूल शिक्षा विभाग मध्यप्रदेश के facebook live कार्यक्रम के माध्यम से कक्षा 1 से 8 के लिए ‘हमारा घर हमारा विद्यालय. कार्यक्रम के सञ्चालन की रुपरेखा share की गई.प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा विभाग श्रीमती रश्मि अरुण शमी एवं आयुक्त राज्य शिक्षा केन्द्र श्री लोकेश कुमार जाटव द्वारा योजना संचालन की सम्पूर्ण जानकारी दी गई.

हमारा घर हमारा विद्यालय कार्यक्रम
कक्षा 1 से 8 के लिए 06 जुलाई 2020 से प्रारंभ हो रहे ‘हमारा घर हमारा विद्यालय’ कार्यक्रम की संक्षिप्त जानकारी इस प्रकार है –

हमारा घर हमारा विद्यालय कार्यक्रम (कक्षा 1 से 8) की समय सारणी

क्र.

गतिविधि

समय

1

अकादमिक

प्रातः 10 से 1 बजे तक

2

खेल, कला एवं मनोरंजन

शाम 4 से 5 बजे तक

3

कहानी सुनना एवं कहानी रचना

रात्रि 7 से 8 बजे तक

4

मस्ती की पाठशाला

प्रत्येक शनिवार 4 से 5 बजे

पालकों के सहयोग से विद्यार्थी अपने घर में एक नियत कक्ष / स्थान पर प्रतिदिन प्रातः 10:00 से दोपहर 1:00 बजे तक बैठकर गतिविधियां करेगे। कार्यक्रम का प्रतिदिन प्रातः 10:00 बजे पालक द्वारा अपने घर में घण्टी/थाली बजाकर प्रारम्भ किया जाना है, इसी प्रकार दोपहर 1:00 बजे घंटी / थाली बजाकर अवकाश किया जाना होगा इससे बच्चों को घर में ही विद्यालय का आभास होगा।

हमारा घर हमारा विद्यालय कार्यक्रम की रूप रेखा

क्र.

आयोजन का समय
(पैडागोजीकल सीखने की प्रक्रिया)

गतिविधि

1

प्रातः 10  से 11 बजे
(देखना)

जॉयफुल लर्निंग / स्कूल रेडीनेस / DigiLEP के वीडियो को whatsapp के माध्यम से देखना.

2

प्रातः 11  से 12 बजे
(सुनना एवं बोलना)

रेडियो कार्यक्रम सुनना एवं परिवार के सदस्यों के साथ चर्चा करना

3

दोपहर 12 से 1 बजे
(लिखना)

दक्षता उन्नयन की वर्कबुक पर लेखन कार्य करना. एक पृष्ठ हिन्दी, एक पृष्ठ अंग्रेजी का लिखना, मौखिक गणित (गिनती, पहाड़े आदि)

  • DigiLEP – पढने, लिखने, गतिविधि करने, रेडियो कार्यक्रम सुनने, तथा DigiLEP के माध्यम से दिए जा रहे वीडियो अनुसार कार्यक्रम संचालित किया जाना है।
  • सायं 4:00 से 5:00 बजे तक सभी विद्यार्थियों के लिए खेलकूद, कलात्मक गतिविधियों के लिए समय निर्धारित होगा जो उन्हें दी जा रही सूची के अनुसार करना होगा।
  • साय 7:00 से 8:00 बजे तक अपने घर के बड़े-बूढों से कहानी/किस्से सुनना एवं उन्हें अपनी भाषा में लिखना।
  • प्रत्येक शनिवार को मस्ती की पाठशाला में निर्देशानुसार रोचक गतिविधियों करना।

साप्ताहिक समय सारणी – एक साप्ताहिक समय सारणी शिक्षकों और छात्रा को DigiLEP समूहो, और अन्य सभी साधनों के माध्यम से भेजी जाएगी। इस समय सारणी में छात्रों के लिए दिन-वार, विषय-वार सीखने के लक्ष्यों को परिभाषित किया जाएगा, साथ ही सीखने का समर्थन करने के लिए विभिन्न संसाधनों का प्राचीन किया जाएगा।
सप्ताह की समय सारणी पूर्ववर्ती सप्ताह में सभी शिक्षकों और छात्रों के साथ साझा की जाएगी अर्थात् 6-11 जुलाई के सप्ताह की योजना 5 जुलाई तक साझा की जाएगी और समय सारणी के विभिन्न हिस्सों को समय समय पर रेखांकित किया जायेगा। इस योजना में पर्याप्त खाली दिन / संशोधन दिवस होगे, जहां शिक्षक यह सुनिश्चित कर सकते है कि जिन छात्रों को अधिक समय और समर्थन की आवश्यकता है वे हसे प्राप्त करे। शिक्षक उन लोगों को अतिरिक्त काम दे सकते है जो शिक्षण सामग्री को तेजी से पूरा करने में सक्षम है।

समूह अनुसार योजना – सीखने की जरूरतों में अंतर को ध्यान में रखते हुए. हम ग्रेड समूहों 1-2, 3-5 और 6-8 के लिए एक अलग अध्ययन योजना बनाएंगे।

शिक्षक की जिम्मेदारी

  • हर सप्ताह, यह सुनिश्चित करना की प्रत्येक बच्चे को साप्ताहिक अध्ययन योजना प्राप्त हो गयी है इस योजना में पर्याप्त खाली दिन / संशोधन दिवस होंगे, जहां आप यह सुनिश्चित कर सकते है कि जिन छात्रों को अधिक समय और समर्थन की आवश्यकता है, वे इसे प्राप्त करे उन लोगों को अतिरिक्त काम दे जो नामित सामग्री को तेजी से पूरा करने में सक्षम है।
  • प्रतिदिन अपने विद्यालय के कम से कम 05 विद्यार्थियों से मोबाइल के माध्यम से चर्चा कर शिक्षण प्रक्रिया की जानकारी प्राप्त कर आवश्यक सुझाव देंगे तथा रिकार्ड संधारित करेंगे।
  • प्रतिदिन विद्यालय समय में गाँव/शहर के एक मोहल्ले/वार्ड/क्षेत्र में कम से कम 05 बच्चों के घर-घर जाकर सम्पर्क अभियान के रूप में हमारा घर हमारा विद्यालय के कार्य का अवलोकन एवं बच्चे के अभ्यास कार्य, दक्षता उन्नयन वर्कशीट, हिन्दी-अंग्रेजी लेखन तथा मौखिक गणित का आकलन करेगे तथा फीडबैक देंगे।
  • अवलोकन के समय बच्चों से उनकी समस्याएं पूछेगे एवं उनका समाधान करेंगे.

प्रधानाध्यापक की जिम्मेदारी

  • प्रतिदिन अपने विद्यालय के शिक्षकों से चर्चा कर उनसे हमारा घर, हमारा विद्यालय अभियान के क्रियान्वयन की जानकारी देंगे।
  • प्रतिदिन गाँव / शहर के एक मोहल्ले /वार्ड / क्षेत्र में कम से कम 05 अभिभावकों से चर्चा कर उन्हें हमाराघर, हमारा विद्यालय अभियान के बारे में अवगत कराएं तथा बच्चों को उसके अनुसार गतिविधियों करवाने हेतु प्रेरित करेंगे।
  • प्रतिदिन कम से कम 05 बच्चों के घर जाकर उनकी गतिविधियों का अवलोकन करेंगे तथा बच्चेवार रिकार्ड संधारित करेंगे।
  • शिक्षकों को राज्य से जोड़ने के लिए M- shiksha Mitra ऐप पर एक नया मॉड्यूल – शिक्षा सेतु
  • अब तक, सभी शिक्षकों को अपने छात्रों के साथ जुड़ने में उनकी प्रगति की रिपोर्ट करने के लिए एक Google फॉर्म भरने के लिए कहा गया था – DigiLEP Bhagidari form
  • शिक्षा सेतु – इन प्रश्नों को Mikiksha-mitra ऐप पर एक नए मोंडशूल में स्थानांतरित कर दिया है – शिक्षा सेतु. कृपया M Shiksha-mitra एप्लिकेशन डाउनलोड करें (सुनिश्चित करें कि आपने ऐप अपडेट कर दिया है), और Shiksha Setu को तुरंत आजमाएं।

RSK द्वारा दिनांक 03 जुलाई 2020 को जारी कक्षा 1 से 8 तक के लिए ‘हमारा घर – हमारा विद्यालय’ की कार्ययोजना देखने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए.