कृष्णानंद राय हत्याकांड का आरोपित शूटर हनुमान पांडेय STF से मुठभेड़ में ढेर

लखनऊ। यूपी एसटीएफ की टीम ने बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय हत्याकांड में आरोपी इनामी बदमाश हनुमान पांडे उर्फ राकेश पांडेय एनकाउंटर में मार गिराया। एक लाख के इनामी रहे हनुमान पांडेय से यूपी एसटीएफ की लखनऊ के सरोजनीनगर में मुठभेड़ में मार गिराया। आईजी अमिताभ यश ने हनुमान पांडेय के मारे जाने की पुष्टि की है।

यह बदमाश मुख्तार अंसारी और मुन्ना बजरंगी का करीबी था। कोपागंज का रहने वाला राकेश पांडे कई सनसनीखेज वारदातों में शामिल था।

बताया जाता है कि मुन्ना बजरंगी की जेल में हत्या के बाद हनुमान पांडेय मुख्तार अंसारी के गैंग का बड़ा शूटर बन गया था. हनुमान पांडेय बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी के गैंग डी-5 का सबसे सक्रिय सदस्य था। वो मुख्तार के साथ मऊ में ठेकेदार अजय प्रकाश सिंह समेत 2 लोगों की हत्या के मामले में भी आरोपी था।

आपको बता दें कि हनुमान पांडेय चर्चित बीजेपी नेता कृष्णानंद राय हत्याकांड में भी आरोपी था। 2005 में विधायक रहे कृष्णानंद राय की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी। वो 29 नवंबर, 2005 को करीमुद्दीनपुर इलाके के सोनाड़ी गांव में एक क्रिकेट मैच के उद्धाटन में पहुंचे थे। बताया जाता है कि उस दिन बारिश हो रही थी और वो अपनी बुलेट प्रूफ कार छोड़ अपने साथियों के साथ सामान्य गाड़ी से चले गए थे।

मैच का उद्घाटन करने के बाद शाम करीब 4 बजे वो अपने गांव गोडउर लौट रहे थे कि तभी बसनियां चट्टी के पास उनके काफिले को कुछ लोगों ने घेर लिया और AK 47 से फायरिंग कर दी। इसमें कृष्णानंद राय समेत 7 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई थी।