थल सेना प्रमुख हालात का जायजा लेने लद्दाख पहुंचे, भारतीय क्षेत्रों का लिया जायजा

नई दिल्ली: भारत और चीन की सेना LAC पर बिल्कुल आमने-सामने हैं. ऐसे में चीन की हर चालबाजी का जवाब भारतीय सेना के जवाब बखूबी दे रहे हैं. इसी बीच थल सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे आज सुबह लद्दाख पहुंचे हैं. यहां उन्होंने पैंगोंग व भारतीय क्षेत्रों के हालात का जायजा लिया. बता दें कि 29-30 अगस्त की रात भारतीय सेना ने चीनी सेना की घुसपैठ के मंसूबों पर फानी फेर दिया था और कालाटॉप पर कब्जा कर लिया था.

बता दें कि पैंगोंग इलाके में नॉर्थ फिंगर 4 पर भारतीय सेना के जवानों ने पूरी तरह कब्जा जमा लिया है. जून महीने से अबतक पहली बार ऐसा हुआ है जब भारतीय सेना का कब्जा इस क्षेत्र में पूरी तरह से हो चुका है. बता दें कि भारत की स्थिति चीनी सैनिकों की अपेक्षा काफी बेहतर है. बता दें कि लगातार हो रही सैन्य अधिकारियों के स्तर की बैठक का भी कोई फायदा नहीं निकल रहा है. चीन लगातार छल कपट की नीति अपनाने पर तुला है साथ ही अपने विस्तारवादी सोच का परिमाण दे रहा है

बता दें कि बीते कल सीमा क्षेत्र में तनाव को कम करने के लिए भारत और चीन के बीच ब्रिगेडियर स्तर के अधिकारियों की बैठक चुशूल में आयोजित की गई थी. हालांकि इस बैठक का कोई परिणाम नहीं निकला. बता दें कि चीनी सैनिकों ने अपनी आर्टिलेरी की तैनाती पैंगोंग इलाके में की है. इसी के जवाब में भारतीय ने सेना ने भी मोर्चा संभालते हुए अपने टैंकों और आर्टिलेरी की तैनाती इस क्षेत्र में कर दी है.