गृह मंत्री अमित शाह ने राष्ट्रीय पुलिस स्मारक पर देशभर में ड्यूटी के दौरान बलिदान देने वाले पुलिस कर्मियों को दी श्रद्धांजलि

इस ख़बर को शेयर करें:

नई दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आज दिल्ली स्थित राष्ट्रीय पुलिस स्मारक पर देशभर में ड्यूटी के दौरान अपना सर्वोच्च बलिदान देने वाले पुलिस कर्मियों को श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर गृह मंत्री ने परेड की सलामी भी ली। दिल्ली स्थित राष्ट्रीय पुलिस स्मारक पर देशभर में ड्यूटी के दौरान अपना सर्वोच्च बलिदान देने वाले पुलिस कर्मियों को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने श्रद्धांजलि अर्पित की।

इस अवसर पर गृह मंत्री ने परेड की सलामी भी ली। उन्होंने कहा कि पुलिस कर्मी हमेशा ड्यूटी पर रहते हैं और उनके लिए कोई अवकाश नहीं होता है। जब देश त्योहार मनाता है, तब पुलिसवाले ड्यूटी कर रहे होते हैं। पुलिस स्मृति दिवस के अवसर पर नई दिल्ली में राष्ट्रीय पुलिस स्मारक में सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि पुलिस कर्मी हमेशा राष्ट्र और लोगों की सुरक्षा में व्यस्त रहते हैं।

उन्होंने कहा कि कोविड -19 की लड़ाई के दौरान 343 पुलिस कर्मियों ने अपनी जान गंवाई है। केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि पुलिस कर्मियों ने कोरोना संकट के दौरान सराहनीय काम किया है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने पुलिस बलों के कल्याण से संबंधित दो प्रमुख विधेयकों का उल्लेख किया।

उन्होंने कहा कि सरकार पुलिस बलों और उनके परिवारों की देखभाल करने की पूरी कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा कि जल्द ही पुलिस के क्षेत्र में टेक्नोलॉजी को बढ़ोतरी दी जाएगी. अमित शाह ने बताया कि अब 12वीं क्लास के बाद से ही बच्चों को सुरक्षा के बारे में जानकारी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार पुलिस कर्मियों और उनके परिवारों के हितों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है।

पुलिस स्मृति दिवस के मौके पर गृह मंत्री के अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मातृभूमि और देशवासियों की रक्षा करते हुए अपने प्राणों को न्योछावर करने वाले पुलिस के रणबांकुरों को नमन किया। कहा कि हमारे पुलिसकर्मी हर हालात में हमेशा बेहिचक अपना सर्वश्रेष्ठ देते हैं। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने राष्ट्रीय पुलिस स्मारक पर बहादुर पुलिस कर्मियों को दी श्रद्धांजलि।