Skip to content

IAS मालपानी सस्पेंड, आॅडियो वायरल करने वाले श्रोती भी नपे

इस ख़बर को शेयर करें:
भोपाल। आदिम जाति कल्याण विभाग में पदस्थ आईएएस अफसर जेपी मालपानी को सरकार ने सस्पेंड कर दिया है. अपने अधीनस्थ से रिश्वत मांगे जाने का कथित ऑडियो वायरल होने के बाद अनुसूचित जनजाति आयुक्त पर यह गाज गिरी है.
मालपानी के साथ ही सोशल मीडिया पर ऑडियो को वायरल करने वाले बड़वानी में सहायक आयुक्त आदिवासी विकास आरके श्रोती को भी सस्पेंड कर संभागीय उपायुक्त कार्यालय में अटैच किया गया है.
सीएम ने दिए थे जांच के आदेश
ऑडियो वायरल होने के बाद सीएम शिवराज ने मामले को गंभीरता से लेते हुए मालपानी को पद से हटाते हुए पूरे मामले की उच्च स्तरीय जांच के निर्देश जारी कर दिए थे.
सीएम ने पूरा मामला संज्ञान में आते ही मालपानी को पद से हटाते हुए जांच का जिम्मा अपर मुख्य सचिव राधेश्याम जुलानिया को सौप दिया था. जिसके बाद सोमवार को जांच रिपोर्ट सामने आने के बाद जेपी मालपानी के सस्पेंशन ऑर्डर जारी कर दिए गए.
यह कहा था मालपानी ने
राज्य प्रशासनिक सेवा से आईएएस संवर्ग में प्रमोशन पाने वाले आईएएस अफसर जेपी मालपानी वायरल हुए ऑडियो में कथित तौर पर जिलों को जारी बजट आवंटन के संदर्भ में अपनी बात कहते हुई सुनाई दे रहे थे.
इस बातचीत में अधिकारी को यह कहते सुना गया कि, ‘फोन आपको लगाना चाहिए था, लेकिन मुझे लगाना पड़ रहा है, आप यहां आओगे या नहीं आओगे. यदि अकेले-अकेले खाओगे तो बदहजमी हो जाएगी.