कानपुर में लव जेहाद के के मामले को लेकर आईजी ने कहा – धर्म परिवर्तन कराने वाले गैंग का पर्दाफाश करेगी एसआईटी

कानपुर। शालिनी से फिजा फातिमा बनी कानपुर की युवती का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। कानपुर में लव जेहाद के के मामले को लेकर खासा बहाल है। हिन्दू संगठनों ने भी आरोपी युवक के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। युवती के परिवार वालों ने भी लव जेहाद का मामला बताकर हिन्दू लड़कियों से शादी करने वाले आरोपियों के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है। कानपुर के डीआईजी मोहित अग्रवाल ने मामले को संज्ञान में लिया है।

उन्होंने बताया कि मोहम्मद फैसल के कथित प्यार में आकर शालिनी यादव के इस्लाम कुबूल कर फिजा फातिमा बनने के मामले में एसआईटी जांच करेगी। इसके लिए आदेश जांच के आदेश दे दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि एसआईटी उन सभी पांच मामलों की जांच करेगी जिसमें कानपुर की हिंदू लड़कियों को प्यार के नाम पर मुस्लिम बनाया गया।

सोशल मीडिया पर दी थी निकाह की जानकारी

कानपुर की रहने वाली 22 वर्षीय शालिनी यादव 29 जून को पेपर देने के लिए लखनऊ के लिए निकली थी। इसके बाद वह अचानक लापता हो गई थी। परिजनों ने युवती की काफी तलाश की लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला सका। युवती के भाई किदवई नगर थाने में शालिनी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। आठ अगस्त को शालिनी ने फेसबुक पर एक वीडियो अपलोड करके कॉलोनी के रहने वाले मोहम्मद फैजल से शादी की बात का खुलासा किया था। साथ ही यह भी बताया था कि उसने धर्म परिवर्तन भी कर लिया। उसने शालिनी यादव बदलकर फिजा फातिमा नाम भी रख लिया है।

युवक के खिलाफ थाने में मुकदमा

शालिनी के धर्म परिवर्तन की खबर जैसे ही परिवार वालों को लगी तो उन्होंने युवक के खिलाफ थाने में मुकदमा दर्ज करवा दिया था। युवती के परिजनों ने युवक पर लव जेहाद का आरोप लगाया था। उनका आरोप था कि इस गैंग में पांच लोग शामलि हैं, जो हिन्दू लड़कियों का धर्मांतरण कराकर उनसे निकाह करते हैं।

कई संगठन कर चुके हैं विरोध

कानपुर में धर्म परिवर्तन करके शालिनी से फिजा फातिमा बनी मामले को लेकर कानपुर में कई धर्म संगठनों ने विरोध प्रदर्शन किया है। कानपुर के बर्रा-6 की युवती ने गुरुवार को सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल कर धर्म परिवर्तन कर अपनी मर्जी से निकाह करने की बात कही थी। रविवार को विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने युवक पर जबरन धर्म परिवर्तन कराने का आरोप लगाते हुए किदवई नगर थाने के बाहर हंगामा किया था। उन्होंने युवती को बरामद करने और आरोपित युवक को गिरफ्तार कर कार्रवाई की मांग की है।

सोशल मीडिया पर उठे थे कई सवाल

कानपुर में धर्म परिवर्तन मामला सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। फेसबुक से लेकर ट्वीटर तक वीडियो छाया हुआ है। आम जनता की नहीं सोशल मीडिया पर शालिनी से फिजा बनी युवती के वायरल हो रहे वीडियो को देखकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मीडिया एडवाइजर शलभ मणि त्रिपाठी ने भी सवाल उठाए थे। उन्होंने ट्वीटर पर लिखा था कि परीक्षा देने के बहाने निकली कानपुर की शालिनी यादव ने पहले धर्म बदला, फिर फैजल नामक युवक से निकाह कर लिया। सवाल ये है कि धर्म बदलने की क्या जरूरत? धर्म शालिनी यादव ने की क्यों बदला? फैजल ने क्यूं नहीं?