डबरा बस स्टैंड पर किराये के नाम पर बस संचालकों की अवैध बसूली, यात्रियों से मांगा जाता है मनमाना किराया

इस ख़बर को शेयर करें:

पहले बुलाकर बस में बिठाया जाता है और बस के चलने पर 5 से 8 किलोमीटर चलने के बाद मनमाना किराया मांगा जाता है

डबरा । देशभर में फैली व्यापक महामारी कोरोना वायरस के चलते पूर्ण जनमानस भारी समस्याओं से ग्रस्त हैं उनकी रोजगार की स्थिति भी काफी दयनीय बन गयी है ऐसे में शासन-प्रशासन दोनो ही जनमानस के लिए पुख्ता इंतजामात कर उनकी परेशानियों में सहायक बने हुए हैं।

ऐसे मैं लोगों को एक जगह से दूसरी जगह जाने के लिए बसों की यातायात के संसाधन बस का सहारा लेना पड़ता है ओर कोरोना वायरस के चलते बसों में एक तीन सीट बाली सीटों पर केवल दो ही यात्री सफर कर सकते हैं जिसको लेकर बस संचालको ने अपना रोश प्रशासन के समक्ष व्याप्त किया तब प्रशासन ने उनकी विवशता को समझते हुए उनका रोड टैक्स शासन के द्वारा माफ किया गया और बस संचालकों को निर्देश पारित किए गए कि सभी बस संचालक अपनी बस में निर्धारित रेट लिस्ट की सूची लगाएगा ओर यात्री से पूर्व की भांति निर्धारित किराया ही वसूला जाए..।

लेकिन इसके बाद भी डबरा बस स्टैंड पर बस संचालक इन निर्देशों का उल्लंघन करते नजर आ रहे हैं तथा कोरोनाकाल में बसों में ज्यादा संख्या में यात्रियों को भरना जिससे सोशल डिस्टेंसिंग का भी उलंग्घन उक्त बस संचालक कर रहे हैं और साथ ही इनकी बसों मैं ना तो विभाग द्वारा निर्धारित रेट लिस्ट को बिना लगाए सफर कर रहे यात्रियों से मनमाना किराया वसूलने की अवैध वसूली कर रहे हैं।

किराये के नाम पर बस संचालकों की अवैध बसूली व गुंडयाई

डबरा से ग्वालियर, डबरा से दतिया व डबरा से शिवपुरी तक के लिए सफर करने बाले यात्रियों को यहाँ बस संचालकों व कडेक्टरों की गुंडागर्दी के दबाब में सफर करना पड़ता है उन्हें पहले बुलाकर बस में बिठाया जाता है और बस के चलने पर 5 से 8 किलोमीटर चलने के बाद मनमाना किराया मांगा जाता है और जब यात्री कुछ पूछते है तो उन्हें बीच मार्ग में उतरने को कहा जाता है जिस मजबूरी में उन्हें किराया चुकाना पड़ता है ऐसी गुंडयाई बस संचालको की इस विशाल कोरोना की परिस्थिती मैं अपने चरम पर है।

कोविड 19 के दिशा निर्देशों की बस संचालक कर रहे उलंग्घन

देशभर मैं कोरोना वायरस (कोविड-19) के लिए शासन-प्रशासन इसके बचाव के लिए काफी हद तक प्रयास कर रहे हैं लेकिन वहीं बस संचालक इसका भारी उलंग्घन कर रहे हैं कोविड-19 के दिशा निर्देश को ताक पर रख कर परिवहन कर रहे हैं।

पूर्व मैं यात्रियों का निर्धारित किराया

डबरा से शिवपुरी—100 रुपये
डबरा से भितरबार— 30 रुपये
डबरा से ग्वालियर— 30 रुपये
डबरा से दतिया— 30 रुपये

अब बस संचालक वसूल रहे किराया

डबरा से शिवपुरी—200 रुपये
डबरा से भितरबार— 50 रुपये
डबरा से ग्वालियर— 50 रुपये
डबरा से दतिया— 50 रुपये

इनका कहना:-

” उक्त खबर को लेकर संबंधित विभाग अधिकारी से संपर्क करने के प्रयास किए गए तो उनके द्वारा फोन नहीं उठाया गया साथ ही ग्वालियर कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह से भी इस विषय पर उनका कथन जानना चाहा तो उनके द्वारा फोन को काट दिया गया। “