नोटबंदी का असर उम्मीद के अनुरूप: जेटली

इस ख़बर को शेयर करें:

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आज कहा कि नोटबंदी का असर अनुमान के अनुरूप ही रहा है और इससे मध्यम और दीर्घकाल में अर्थव्यवस्था को फायदा पहुंचेगा।

रिजर्व बैंक के यह कहने के एक दिन बाद कि बंद किये गये 500, 1000 रुपये के करीब करीब सभी नोट बैंकिंग तंत्र में लौट आये हैं, जेटली ने कहा कि पैसा बैंकों में जमा हो गया है इसका मतलब यह नहीं है कि यह पूरा धन वैध है।

उन्होंने कहा, ‘‘यह कोई नहीं कह रहा है कि नोटबंदी के बाद कालाधन पूरी तरह से समाप्त हो गया है।’’ वित्त मंत्री ने कहा कि नोटबंदी के बाद जीएसटी लागू होने से प्रत्यक्ष कर राजस्व को अच्छा बढ़ावा मिलेगा, क्योंकि इसके बाद कई नये लोग कर के दायरे में आये हैं।

उन्होंने कहा कि नोटबंदी के बाद काफी नकदी बैंकों में जमा की गई। यह सरकार के लिये चिंता की बात नहीं है क्योंकि यह अर्थव्यवस्था के लिये अच्छा है कि अधिक से अधिक धन औपचारिक तंत्र में आया है।