भारत और इटली के बीच रेल व सुरक्षा संबंधी विषयों के साथ तकनीकी सहयोग पर एमओयू हस्‍ताक्षर हुआ

रेल मंत्रालय और इटली की सरकारी क्षेत्र की कंपनी फेरोवाई डेलो इटालियन ग्रुप (एफएस) ने रेल संचालनों में, विशेष रूप से सुरक्षा संबंधी विषयों पर, तकनीकी सहयोग पर एक समझौता ज्ञापन(एमओयू) पर हस्‍ताक्षर किया है। फेरोवाई डेलो इटालियन ग्रुप इटली में रेल क्षेत्र के प्रबंधन से जुड़ी सरकारी कंपनी है। रेल मंत्रालय की तरफ से इस समझौते पर रेलवे बोर्ड के कार्यकारी निदेशक/ सुरक्षा (समन्‍वय) द्वारा हस्‍ताक्षर किया गया है जबकि इटली की तरफ से एफएस ग्रुप के सीईओ श्री रेनाटो मैजोनसिनी द्वारा इस पर हस्‍ताक्षर किया गया।

इस एमएयू में सहयोग के जिन क्षेत्रों की पहचान की गई है, उनमें भारतीय रेल का सुरक्षा लेखा एवं रेल संचालन में सुरक्षा बढ़ाने के लिए आवश्‍यक कदम, सेफ्टी इंटीग्रिटी लेवल (एसआईएल 4) के लिए उन्‍नत प्रौद्योगिकी आधारित सुरक्षा उत्‍पाद एवं प्रणालियों का आकलन तथा प्रमाणीकरण, सुरक्षा पर फोकस के साथ प्रशिक्षण एवं क्षमता विकास, रखरखाव और नैदानिकी आदि में आधुनिक रूझान शामिल हैं।

यह एमओयू भारत सरकार के रेल मंत्री श्री सुरेश प्रभाकर प्रभु द्वारा रेल संचालनों में सुरक्षा पर विशेष जोर दिए जाने की पृष्‍ठभूमि में किया गया है। उन्‍होंने रेल बोर्ड को इस विषय पर अंतरराष्‍ट्रीय विशेषज्ञों के साथ सहयोग करने और इस क्षेत्र में सर्वश्रेष्‍ठ प्रचलनों की पहचान करने का निर्देश दिया है।

फेरोवाई डेलो इटालियन ग्रुप (एफएस) इटली सरकार की पूर्ण स्‍वामित्‍व वाली कंपनी है और मिनिस्‍ट्री ऑफ ट्रेजर के तहत काम करती है। इस ग्रुप की इसकी तकनीकी एवं प्रबंधकीय रेलवे विशेषज्ञता के कारण अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर बहुत अधिक ख्‍याति है और यह हाई स्‍पीड एवं कंवेशनल पटरियों की डिजाइन एवं रियलाइजेशन, सुरक्षा प्रणालियों, प्रमाणीकरण, प्रशिक्षण एवं संचालन तथा रखरखाव जैसे कई क्षेत्रों में विश्‍व की सबसे उन्‍नत कंपनियों में से एक है।