पिघलते हुए फ्रांसीसी ग्लेशियर से मिले 1966 में छपे भारतीय अखबार

लंदन. पश्चिमी यूरोप में मोंट ब्लैंक पर्वत श्रृंखला पर फ्रांसीसी बोसन्स ग्लेशियरों से 1966 में इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) की चुनावी जीत की सुर्खियों वाले भारतीय अखबार (Indian Newspaper) मिले हैं. ये फ्रांस (France) का आल्प्स पर्वतीय इलाका है जिसे मो ब्लां ग्लेशियर के नाम से जाना जाता है, यहां के ग्लेशियर की बर्फ में भारतीय अखबार ‘नेशनल हेराल्ड’ का पाया जाना खूब सुर्खियां बंटोर रहा है. हालांकि बताया जा रहा है कि इस स्थान पर उसी साल एअर इंडिया का एक विमान भी दुर्घटनाग्रस्त हुआ था.

दरअसल, 54 साल पहले यहीं एअर ​इंडिया का विमान क्रैश हुआ था और इसमें 117 यात्रियों व क्रू सदस्यों की मौत हुई थी। इनकी सुर्खियां हैं ‘भारत की पहली महिला प्रधानमंत्री’, जो 1966 में इंदिरा गांधी की जीत बताती हैं।

फ्रांस के एक अखबार के अनुसार 24 जून, 1966 को यूरोप की सर्वोच्च पर्वत श्रृंखला में एअर इंडिया का एक विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था जिसके मलबे में से ‘नेशनल हेराल्ड’ और ‘इकनोमिक टाइम्स’ समेत करीब दो और भारतीय अखबारों की प्रतियां मिली हैं. फ्रेंच रिसॉर्ट ऑफ चामोनिक्स से भी ऊपर, 1350 मीटर की ऊंचाई पर एक कैफे-रेस्तरां चलाने वाले टिमोथी मोटिन को यह अखबार मिला. ब्रिटेन के ‘द गार्डियन’ अखबार और अन्य एजेंसियों ने स्थानीय फ्रांसीसी अखबार ‘ली डाउपिन लिबेरे’ को टिमोथी द्वारा दी गयी जानकारी के हवाले से लिखा ‘वे अभी सूख रहे हैं लेकिन बहुत अच्छी स्थिति में हैं. आप उन्हें पढ़ सकते हैं.’