भारतीय युवा कट्टरपंथ से दूर: पीएम मोदी

मुस्लिम उलेमाओं, बुद्धिजीवियो और शिक्षाविदों के एक प्रतिनिधिमंडल ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाक़ात की।

प्रतिनिधिमंडल ने केंद्र सरकार द्वारा अल्पसंख्यकों समेत समाज के सभी वर्गों के लिए समेकित विकास के साथ ही सामाजिक-आर्थिक और शैक्षणिक तौर पर मज़बूत करने के मक़सद से उठाए गए कदमों के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद दिया।

प्रतिनिधिमंडल ने भारतीय हज यात्रियों का कोटा बढ़ाने के लिए सऊदी सरकार के फ़ैसले की सराहना की और इस मामले को सफलतापूर्वक आगे बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद दिया। पीएम मोदी ने कहा कि भारतीय युवाओं ने कट्टरपंथ का सफलतापूर्वक विरोध किया है।

उन्होंने ट्वीट कर कहा कि ‘मुस्लिम समुदाय के उमेलाओ, बुद्धिजीवियों और शिक्षाविदों के एक प्रतिनिधिमंडल के साथ गहराई से विचार विमर्श किया गया। हम ने स्वच्छ भारत मिशन, विदेश नीति, शिक्षा, कौशल विकास, भ्रष्टाचार और काले धन से लड़ने की जरूरत पर भी विचार-विमर्श किया। हमने बात की कि देश की महान संस्कृति, परंपराओं और सामाजिक ताना-बाना युवाओं में बढते कट्टरता के खिलाफ हमेशा खड़ा रहेगा।’