भारत का स्वच्छता मिशन दुनिया का सबसे बड़ा जनांदोलन: पीएम

इस ख़बर को शेयर करें:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को नई दिल्ली में महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय स्वच्छता सम्मेलन के समापन समारोह में संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेज़ की मेज़बानी की. चार दिवसीय महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय स्वच्छता सम्मेलन ने स्वच्छता मंत्रियों और दुनियाभर के अन्य नेताओं को एक मंच दिया है.

दोनों नेताओं ने इस अवसर पर आयोजित डिजिटल प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया. स्वच्छता के क्षेत्र में रोबोटिक सीवर क्लीनिंग डिवाइस जैसे उपकरणों को भी प्रदर्शनी में प्रदर्शित किया गया. दोनों नेताओं ने MGISC प्रतिज्ञा पर भी हस्ताक्षर किए, जो खुले में शौच से मुक्ति दिलाने और सतत विकास लक्ष्यों को प्राप्त करने की प्रतिबद्धता व्यक्त करता है.

प्रधानमंत्री ने बापू के पसंदीदा भजन – “वैष्णव जन” पर आधारित एक सीडी भी जारी की. पीएम मोदी और एंटोनियो गुटेरेज़ ने महात्मा गांधी पर डाक टिकट जारी किया. पीएम मोदी ने बापू को याद करते हुए कहा कि उन्होंने स्वच्छता को प्राथमिकता दी और जन आंदोलन का रूप दिया. उन्होंने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने लोगों की मानसिकता बदलने के लिए स्वच्छता पर जोर दिया.

प्रधानमंत्री ने कहा कि आजादी की लड़ाई लड़ते हुए गांधीजी ने एक बार कहा था कि वह स्वतंत्रता और स्वच्छता में स्वच्छता को प्राथमिकता देते हैं. पीएम मोदी ने कहा कि स्वच्छ भारत अभियान आज दुनिया का सबसे बड़ा जन आंदोलन बन चुका है, जो देशवासियों की आशाओं का प्रतीक है.