देश की सबसे लंबी और सर्वाधिक सुरक्षित सुरंग चेनानी-नाशरी राष्ट्र को समर्पित

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाई-वे पर स्थित देश की सबसे लंबी चेनानी-नाशरी सुरंग का उद्घाटन कर उसे देश को समर्पित किया. इस मौके पर मोदी के साथ सड़क परिवहन-राजमार्ग और नौवहन मंत्री नितिन गडकरी, पीएमओ राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह, प्रदेश के राज्यपाल एनएन वोहरा और मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती भी मौजूद रहे.

सुरंग के उद्घाटन के बाद पीएम मोदी उधमपुर जिले के बट्टल बलियां में एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे. पीएमओ राज्यमंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि ये जम्मू-कश्मीर के लोगों के लिए गर्व की बात है कि पीएम मोदी खुद इस सुरंग को देश को समर्पित करने वाले हैं. न्यू इंडिया के उनके नारे के तहत इसे देश को समर्पित किया जा रहा है.

उन्होंने आगे बताया कि सुरंग से हर साल करीब 99 करोड़ रुपए के फ्यूल की बचत होगी. साथ ही रोज करीब 27 लाख का फ्यूल बचने की संभावना है. चेनानी और नाशरी के बीच की दूरी 31 किलोमीटर से घटकर 10.9 किलोमीटर रह जाएगी.

सुरंग की खासियतें-

  • 9.2 किलोमीटर लंबी नाशरी-चेनानी सुरंग देश की सबसे लंबी सुरंग है. नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने इस सुरंग को बनाने में करीब 3,720 करोड़ रुपये खर्च किए हैं. 1,200 मीटर की ऊंचाई पर स्थित सुरंग में यातायात और आग नियंत्रण प्रणाली, वीडियो निगरानी, एफएम कनेक्टिविटी और ट्रांसवर्स वेंटिलेशन सिस्टम भी है.
    ये है देश की सबसे लंबी सुरंग, हर रोज बचाएगी 27 लाख रुपये का डीजल-पेट्रोल
  • यह सुरंग उधमपुर को रामबन जिले के साथ जोड़ती है. इस सुरंग के माध्यम से यात्रा करने से न केवल दो घंटों की बचत होगी, बल्कि वाहनों द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले ईंधन पर आने वाले खर्च में भी प्रतिदिन 27 लाख रुपये की बचत होगी.
  • इस सुरंग का नाम ‘वन इंडिया’ रखा गया है. इस सुरंग को बनाने में कुल 1,500 इंजिनियरों, जियोलॉजिस्ट्स और श्रमिकों की मेहनत लगी है. सुरंग की निगरानी के लिए इसके अंदर 124 CCTV कैमरा लगाए गए हैं.