प्रदेश में प्रथम स्थान पर इंदौर संभाग

इस ख़बर को शेयर करें:

इन्दौर @ महिला एवं बाल विकास के विभागीय पोर्टल पर प्रदेश के सभी संभाग, जिलों, परियोजनाओं सेक्टर एवं आंगनवाड़ी केन्द्रों की ग्रेडिंग प्रतिमाह मासिक प्रगति प्रतिवेदन (एम.पी.आर.) के 28 सूचकांक एवं अधिकारियों द्वारा किये गये भ्रमण के आधार पर दर्शित होती है।

28 सूचकांक विभागीय योजनओं से हितग्राहियों को लाभान्वित करने से संबंधित है जैसे- 06 माह से 03 वर्ष के बच्चों, गर्भवती व धात्री माताओं को थर्ड होम मील वितरण संबंधी एन्ट्री, 03 से 06 वर्ष के बच्चों को ताजा गर्म नाश्ता एवं भोजन वितरण संबंधी एन्ट्री, आंगनवाड़ी केन्द्र में शाला पूर्व शिक्षा का आयोजन, बच्चों की उपस्थिति, आंगनवाड़ी केन्द्र में आने वाले बच्चों के वजन संबंधी जानकारी, आंगनवाड़ी केन्द्र में दर्ज अतिकम व कम वजन के बच्चों की जानकारी, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता द्वारा की गई गृह भेंट की जानकारी किशोरी बालिकाओं को आयरन टैबलेट वितरण की एन्ट्री, केन्द्र में स्थापित उदिता कार्नर अंतर्गत सेनेटरी नेपकीन वितरण की एन्ट्री, न्यूट्रीकार्नर की जानकारी, लाडली लक्ष्मी योजना में किये गये पंजीयन की जानकारी एवं कुपोषित बच्चों को दिये जा रहे थर्ड मील की जानकारी आदि की एन्ट्री प्रतिमाह की जाती है। उक्त जानकारी की ऑनलाइन एन्ट्री एम.पी.आर. के माध्यम से की जाती है, जिसके आधार पर ग्रेडिंग के अंकों का निर्धारण होता है।

उपरोक्त 28 सूचकांक के अलावा सेक्टर पर्यवेक्षक, परियोजना अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी द्वारा किये गये मासिक भ्रमण के आधार पर ग्रेडिंग हेतु अंक प्रदाय किये जाते हैं, जिसमें प्राप्त अंकों के आधार पर ग्रेडिंग तय होती है। विभागीय एम.आई.एस. पोर्टल पर जानकारी की गई ग्रेडिंग में इंदौर संभाग प्रदेश में प्रथम स्थान पर है। यह जानकारी संयुक्त संचालक आई.सी.डी.एस. मेहरा ने दी।