यूपी के शामली में गैस रिसाव की घटना के जांच के आदेश

उत्तर प्रदेश के शामली के सर शादी चीनी मिल के कचरे को नष्ट करने के लिए डाले गए रसायन से निकली गैस ने मंगलवार को कोहराम मचा दिया। गैस से सरस्वती विद्या मंदिर और सरस्वती जुनियर हाई स्कूल के 300 से ज्यादा बच्चे बेहोश हो गए।

घटना की खबरें सामने आते ही प्रशासन ने अपने स्तर पर कार्रवाई शुरू कर दी है और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सहारनपुर के आयुक्त को इस मामले की जांच के आदेश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने शामली के जिलाधिकारी और स्थानीय अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वह प्रभावित बच्चों के इलाज में हर संभव मदद करें।

स्थानीय प्रशासन के मुताबिक 30-35 बच्चों की हालत गंभीर है जिनको मेरठ रेफर कर दिया गया है। स्थानीय लोगों के अनुसार चीनी मिल से निकले रसायन से उठने वाली गंध इतनी तेज थी कि स्कूल में मौजूद बच्चों पर इसका बहुत बुरा प्रभाव हुआ। गंध के कारण बच्चों के गले में जलन, छाती में जलन और घबराहट होने लगी।

बच्चों के बेहोश होकर अस्पताल में भर्ती होने से उनके अभिभावक चिंतित हैं। हालांकि राहत की बात यह है कि अभी तक किसी भी बच्चे की जान के नुकसान की सूचना अभी तक नहीं मिली है और उनके इलाज में प्रशासनिक और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी जुटे हुए हैं।