स्वाइन फ्लू से पीड़ित मरीजों के लिये आइसोलेशन वार्ड बनाये गये

रीवा @ प्रदेश के साथ रीवा जिले में भी स्वाइन फ्लू के खतरे को मद्देनजर रखते हुए इसकी रोकथाम हेतु जरूरी इंतजाम किये गये हैं। स्थानीय संजय गांधी अस्पताल, जिला चिकित्सालय सहित विन्ध्य एवं चिरायु अस्पताल स्वाइन फ्लू से पीड़ित मरीजों के इलाज हेतु चिन्हित किये गये हैं। जहाँ आइसोलेशन वार्ड बनाकर दवाइयों की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करायी गयी है। इसके साथ ही जिले के समस्त सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में अलग से भी सर्दी जुकाम से पीड़ित मरीजों के लिये ओ.पी.डी. संचालन के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा दिये गये हैं।

डॉ. एस.के.त्रिपाठी सी.एम.एच.ओ. ने बताया कि सर्दी जुकाम, गले में खरास, बुखार एवं सांस लेने में तकलीफ होने पर तत्काल चिकित्सकीय सलाह लेना चाहिए। पीड़ित मरीज को छींकते समय मुंह पर रूमाल रखना चाहिए। संक्रमण होने पर एवं संक्रमण से बचाव हेतु भीड-भाड़ वाले स्थानों से दूर रहने व पीड़ित व्यक्ति को छूने से पहले व बाद में साबुन से हाथ धोने की सलाह दी गयी है। यथा संभव संक्रमित मरीज से एक मीटर की दूरी रखनी चाहिए। उल्लेखनीय है कि जिले में अभी तक स्वाइन फ्लू के पाँच संभावित मरीजों के सेम्पल जांच हेतु जबलपुर भेजे गये है जिनमें से एक मरीज का सेम्पल पाजिटिव आया और उसकी गत दिनों मृत्यु भी हो गयी थी। उसके अतिरिक्त दो मरीज रीवा जिले के भोपाल एवं जबलपुर में भर्ती हुये थे जो स्वाइन फ्लू पाजिटिव थे तथा वह उपचार उपरांत अब स्वस्थ हैं।