मौसम से होने वाली बिमारियों से है बचना जरुरी

बरसात के मौसम में होने वाले लगातार बदलावों के कारण लोगों का सर्दी- जुकाम जैसी समस्याओं से गुजरना पड़ता है, ऐसे में जरुरी है कि आप अपने आस-पास सफाई के साथ-साथ अपने सेहत का विशेष ध्यान रखना बेहद जरुरी है। बारिश का मौसम दिखने में जितना सुहाना लगता है उससे कही ज्यादा वह हमारे सेहत के लिए नुकसानदेह भी है। इस मौसम में होने वाली थोड़ी सी असावधानी व्यक्ति को बीमार कर सकती है।

ऐसे समय में नवजात बच्चों का खास ख़याल रखने की जरूरत होती है, क्योकि बच्चों के शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता ज्यादा उम्र के व्यक्ति की तुलना में काफी कमजोर होती है। इसलिए जरुरी है कि इस बदलते मौसम में अपना, अपने बच्चों का और अपने आसपास का खास ख्याल रखना बेहद जरुरी है। बरसात के मौसम में जहां एक ओर हरियाली मन को मोह लेती है वही दूसरी ओर इस मौसम में होने वाली बीमारियां भी लोगों को सबसे ज्यादा परेशान करती है। इस मौसम में वायरल फीवर और पेट की समस्याओं के साथ साथ मलेरिया, टायफायड और हैपेटाइटिस जैसी बीमारियों का भी खतरा रहता है।

इसके लिए आपको ज्यादा कुछ नहीं करना है बस थोड़ी सी सावधानी बरत कर बरसाती बीमारियों से बचा जा सकता है।
ऐसे में क्या सावधानी बरतें इस बात को जानना सबसे ज्यादा आवश्यक है, ऐसे में गले में खराश या शरीर में दर्द हो तो तुरंत डाक्टर से मिले। अधिक ठंडी चीजें और तेज एसी, कूलर की हवा से बचे या कम से कम इस चीजों का प्रयोग में लाये साथ ही बाहर के दूषित पानी को पीने से परहेज करें।