उच्च न्यायालय जबलपुर में 1265 प्रकरण निराकृत

जबलपुर@ उच्च न्यायालय जबलपुर में कार्यवाहक मुख्य न्यायाधिपति जस्टिस राजेन्द्र मेनन और उच्च न्यायालय विधिक सेवा समिति के अध्यक्ष जस्टिस संजय सेठ के मार्गदर्शन में नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया किया। आपसी समझौते के आधार पर प्रकरणों के निराकरण के लिए 7 खण्डपीठों का गठन किया गया था।

सचिव उच्च न्यायालय विधिक सेवा समिति- विजय चन्द्र ने बताया कि उच्च न्यायालय की नेशनल लोक अदालत में आपसी सुलह एवं सहमति से निराकरण के लिए रखे गए 2 हजार 321 प्रकरणों में से एक हजार 265 प्रकरणों का अंतिम रूप से दोनों पक्षों की सहमति के आधार पर निराकरण किया गया। मोटर दुर्घटना दावों के मामलों में साढ़े छ: करोड़ रूपए से ज्यादा के अवार्ड पारित किए गए। रीवा जिले के एक 29 वर्षीय पुराने पारिवारिक साम्पत्तिक विवाद सहित अनेक पुराने वैवाहिक विवादों का भी सफलतापूर्वक निराकरण किया गया। चैक अनादरण के प्रकरण तथा दाण्डिक प्रकरण भी निराकृत किए गए। उच्च न्यायालय अधिवक्ता बार एसोशिएशन जबलपुर द्वारा समस्त उपस्थित अधिवक्ता, पक्षकारों एवं कर्मचारियों को लंच पैकेट का वितरण किया गया। सचिव विजय चन्द्र ने लोक अदालत को सफल बनाने में अभिभाषकों तथा पक्षकारों एवं कर्मचारियों द्वारा दिए गए सहयोग के लिए आभार ज्ञापित किया है।