जोधपुर सेशंस कोर्ट ने सलमान की जमानत मंजूर की, जारी किए रिहाई के आदेश

इस ख़बर को शेयर करें:

काले हिरणों का शिकार करने के जुर्म में मिली सजा के खिलाफ सलमान खान की जमानत याचिका पर सेशन कोर्ट ने अपना फैसला सुनाते हुए सलमान को जमानत दे दी. सेशन कोर्ट के जज रवींद्र कुमार जोशी ने ठीक तीन बजे अपना फैसला सुनाया. इससे पहले उन्होंने केस का अध्ययन कर फैसला सुरक्षित रखा था.

इससे पहले सलमान के वकील महेश बोरा ने कहा था कि अगर आज सेशन कोर्ट से सलमान को जमानत नहीं मिलती है तो वे लिंक कोर्ट में पेटिशन लगाएंगे. उनकी पूरी कोशिश होगी कि लिंक कोर्ट में भी जमानत याचिका पर आज ही सुनवाई हो, क्योंकि ऐसा नहीं होता है तो सलमान को कम से कम दो दिन और जोधपुर सेंट्रल जेल में ही गुजारना होगा.

उधर, सरकारी वकील भवानी सिंह भाटी का कहना है कि अदालत ने पूरा मामला सुन लिया है. अब यह जज पर निर्भर करता है कि वह मामले की सुनवाई करेंगे या नहीं. उनका कहना है कि यह सजा के निलंबन का मामला है, कोई नियमित जमानत का मामला नहीं. उनका कहना था कि ट्रांसफर के बावजूद जज का फैसला सुनाना ठीक नहीं.

बता दें कि याचिका पर सुनवाई कर रहे जोधपुर सेशंस कोर्ट के जज रवींद्र कुमार जोशी का तबादला हो गया है. राजस्थान हाई कोर्ट ने देर रात 87 जजों के एकमुश्त तबादलों का आदेश जारी किया है, जिसमें जोशी का नाम भी शामिल है.

ये ट्रांसफर इसलिए अहम है क्योंकि जोधपुर सेशंस कोर्ट में आज सुबह साढ़े दस बजे सलमान खान की बेल पर सुनवाई होनी है. शुक्रवार को बेल पर सुनवाई करते हुए जज रवींद्र जोशी ने फैसला सुरक्षित रख लिया था और अब उनका ट्रांसफर सिरोही हो गया है.

जोशी की जगह लेंगे चंद्रकुमार
जोशी की जगह जोधपुर सेशंस कोर्ट के नए जज अब चंद्रकुमार सोंगरा होंगे. ऐसे में इस बात पर सस्पेंस बना है कि मौजूदा जज का तबादला होने के बाद बेल पर सुनवाई कौन करेगा. हालांकि, जानकारी के मुताबिक ये बात सामने आ रही है कि चंद्रकुमार आज चार्ज नहीं संभालेंगे. अगर ऐसी स्थिति बनती है और जोशी भी सुनवाई नहीं करते हैं तो मुमकिन है कि बेल याचिका किसी और कोर्ट को ट्रांसफर कर दी जाए. रुटीन में ऐसा होता रहा है.

ये ट्रांसफर इसलिए अहम है क्योंकि शुक्रवार को जज रवींद्र जोशी ने जमानत पर बहस के दौरान ये टिप्पणी की थी, वो कोर्ट ऑर्डर को तफ्सील से देखेंगे और उन्होंने सलमान के वकील की तमाम दलील सुनने के बाद बेल पर फैसला आज तक के लिए टाल दिया था. ऐसे में बेल पर सुनवाई रवींद्र जोशी के बजाय नए जज चंद्रकुमार करते हैं या फिर किसी और कोर्ट में बेल याचिका जाती है तो इस बात की भी आशंका है कि सलमान को आज भी राहत न मिल पाए.

वकीलों की राय
हालांकि, वरिष्ठ वकील केके मनन का कहना है कि चूंकि जज जोशी ने कल (शुक्रवार) फैसला सुरक्षित रख लिया था, इसलिए ज्यादा संभावना इस बात की है कि वही आज सलमान की जमानत पर फैसला सुनाएं. वहीं, काला हिरण शिकार केस में बिश्नोई समाज के वकील महीपाल बिश्नोई का कहना है कि अप्रैल के महीने में ऐसे रुटीन ट्रांसफर पहले भी होते रहे हैं, इसलिए इसे किसी तरह देखना उचित नहीं है.

बहरहाल, अभी तक सलमान की जमानत पर सस्पेंस कायम है. अगर सलमान को आज जमानत नहीं मिलती है तो उन्हें कम से कम दो दिन और जेल की सलाखों के पीछे गुजारने पड़ेंगे. कल रविवार होने की वजह से सुनवाई नहीं हो पाएगी. इसलिए आज सलमान और उनके परिवार के लिए बेहद अहम दिन है.