कंगना रनौत और उद्धव ठाकरे की लड़ाई में अब महाराष्ट्र के राज्यपाल की हो गई है एंट्री

मुंबई। कंगना रनौत और महाराष्ट्र सरकार के बीच विवाद गहराता जा रहा है। बृह्नमुंबई म्युनिसिपल कार्पोरेशन (BMC) ने कंगना रनौत के ऑफिस में जो तोड़फोड़ की है, उससे कंगना काफी नाराज हैं। कंगना की बहन रंगोली ने गुरुवार को ऑफिस जाकर वहां का जायजा लिया। वहीं, कंगना रनौत और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बीच जारी लड़ाई में अब महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी की एंट्री हो गई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उन्होंने इस पूरे प्रकरण में मुख्यमंत्री के मुख्य सलाहकार अजेय मेहता से चर्चा की। इस दौरान ने राज्यपाल ने कार्रवाई पर नाराजगी भी जताई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अजेय मेहता इस संबंध में सीएम उद्धव को जानकारी दे देंगे। वहीं, राज्यपाल कोश्यारी भी इस विषय पर केंद्र को एक रिपोर्ट देने वाले हैं।

इसी बीच कंगना रनौत के खिलाफ विक्रोली थाने में शिकायत दर्ज करवा दी गई है। कंगना पर आरोप है कि कंगना ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के खिलाफ अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल किया था। शिकायत के साथ कंगना के ट्वीट्स भी अटैच किए गए हैं। शिकायत में कंगना के वीडियो का जिक्र है।

गौरतलब है कि बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की तरफ से जुबानी हमले तेज हैं। कंगना ने तो उद्धव ठाकरे को वंशवाद का नमूना तो शिवसेना को सोनिया सेना तक कह डाला।

उधर, केंद्र सरकार ने कंगना को वाई प्लस श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की है। उन्होंने हाल ही में मुंबई पुलिस की आलोचना की थी और महानगर की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से की थी, जिस पर उठे विवाद के बाद उन्हें केंद्र की ओर सुरक्षा प्रदान की गयी है। शिवसेना ने उनके बयानों की निंदा की।