कंगना रनौत का हमला : उधव ठाकरे आज मेरा घर टूटा है कल तेरा घमंड टूटेगा, यह वक्त का पहिया है याद रखना

नई दिल्‍ली: मुंबई में बॉलीवुड एक्‍ट्रेस कंगना रनौत ने दोबारा महाराष्‍ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे और करण जौहर पर दोबारा हमला बोला है. बीएमसी ने बुधवार को कंगना रनौत के बांद्रा स्थित बंगले का तथाकथित अवैध हिस्सा ध्वस्त कर दिया, जिसके बाद वह यहां पहुंचीं और इस कार्रवाई को लेकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर जमकर बरसी हैं.

रनौत ने कहा, उधव ठाकरे और करण जौहर गैंग आओ तुम मेरे वर्कप्‍लेस को तोड़ दिया, अब मेरा घर तोड़ो, फिर मेरा चेहरा और शरीर तोड़ो, मैं चाहती हूं कि दुनिया स्पष्ट रूप से देखे कि आप वैसे भी क्या करते हैं, चाहे मैं जीऊं या मरूं, मैं आपको बेनकाब कर दूंगी.

कंगना रनौत ने कहा, पिछले 24 घंटों में मेरे कार्यालय को अचानक अवैध घोषित कर दिया गया, उन्होंने फर्नीचर और रोशनी सहित अंदर सब कुछ नष्ट कर दिया है और अब मुझे धमकी मिल रही है कि वे मेरे घर आएंगे और इसे भी तोड़ देंगे, मुझे खुशी है कि फिल्म माफिया की पसंदीदा दुनिया के सर्वश्रेष्ठ सीएम का मेरा फैसला सही था.

बता दें कि इससे कंगना ने अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट किए गए एक वीडियो संदेश में ठाकरे से कहा, ” उद्धव ठाकरे, तुझे क्या लगता है…आज मेरा घर टूटा है कल तेरा घमंड टूटेगा, यह वक्त का पहिया है याद रखना हमेशा एक जैसा नहीं रहता….” बता दें कि कंगना ने यह बंगला सितंबर 2017 में कथित तौर पर 20 करोड़ रुपए में खरीदा था.

कंगना को बांम्‍बे हाईकोर्ट से राहत भी मिल गई. अदालत ने उनके बंगले में अवैध निर्माण को बीएमसी द्वारा ध्वस्त करने की शुरू की गई प्रक्रिया पर रोक लगाते हुए एक स्थगन आदेश जारी किया. कंगना इस बंगले को अपने कार्यालय के रूप में उपयोग करती है. बता दें कि अदालत ने यह भी जानना चाहा कि नगर निकाय उनके बंगले में कैसे घुसा, जब उसकी मालकिन वहां उपस्थित नहीं थीं.

कंगना, चंडीगढ़ से विमान के जरिए अपराह्न करीब ढाई बजे मुंबई एयरपोर्ट पहुंचीं. मुंबई पुलिस के बारे में उनके बयान के कारण शिवसेना कार्यकर्ताओं ने यहां हवाईअड्डे पर उनका विरोध किया. काले झंडे लिए शिवसेना कार्यकर्ताओं को हवाईअड्डे के बाहर देखा गया. कार्यकर्ताओं ने उनके खिलाफ नारेबाजी की.

कंगना के मुंबई एयरपोर्ट पर आगमन के बाद उन्हें कड़ी सुरक्षा के बीच उपनगरीय खार स्थित उनके आवास ले जाया गया था. आरपीआई (ए) और करणी सेना के कार्यकर्ता भी कंगना के समर्थन में वहां एकत्र थे. आरपीआई (ए) के नेता एवं केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने घोषणा की थी कि कंगना के मुंबई आने पर उनकी पार्टी के कार्यकर्ता उनकी सुरक्षा करेंगे. ये सभी कार्यकर्ता हवाईअड्डे के टर्मिनल-2 के बाहर एकत्र थे.

कंगना को केंद्रीय सुरक्षा बल और मुंबई पुलिस के कर्मी उन्हें सुरक्षा घेरे में हवाई अड्डे से बाहर ले गए थे. उन्‍हें केंद्र द्वारा वाई प्लस श्रेणी की सुरक्षा मुहैया कराई गई है. खार स्थित उनके आवास के बाहर भारी संख्या में पुलिस तैनात हैं.