कोविड-19: तीन महीनों में पहली बार पिछले 24 घंटों में नए संक्रमित की संख्‍या 50,000 से कम 46,790 हुई

Tags:
इस ख़बर को शेयर करें:

कोविड-19 के खिलाफ अपनी जंग में भारत हर रोज़ एक नया क़दम मज़बूती से रख रहा है। इस लड़ाई में भारत ने अब तक बहुत से महत्‍वपूर्ण मील के पत्‍थर पार कर लिए हैं।करीब तीन महीनों के बाद पहली बार पिछले 24 घंटों में नए संक्रमित मामलों की संख्‍या 50,000 से कम 46,790 हो गई है।

28 जुलाई को नए मामले 47,703 थे। और ऐसा इसलिए संभव हुआ क्यूंकि प्रतिदिन बड़ी संख्‍या में कोविड रोगियों के ठीक होने से और मृत्‍युदर में भी लगातार गिरावट आने से भारत में सक्रिय मामलों में गिरावट दर्ज की जा रही है। सक्रिय मामलों की संख्‍या में 10 प्रतिशत से ज्‍यादा की गिरावट आई है। प्रति मिलियन जनसंख्या पर भारत में 310 मामले है जो कि दुनिया के दूसरे देशों से कम है। आंकड़ों के मुताबिक़ देश में कुल सक्रिय मामलों की संख्या घटकर 7 लाख 48 हजार 538 रह गयी है।

सक्रिय मामलों में गिरावट के अलावा ठीक होने वाले रोगियों की संख्‍या में जबरदस्‍त बढ़ोतरी हुई। ठीक होने वाले रोगियों की संख्‍या 67 लाख को पार कर गई है। सक्रिय मामलों और ठीक होने वाले मामलों के बीच भी अंतर लगातार बढ़ रहा है । पिछले 24 घंटों में 69,720 रोगियों को ठीक होने के बाद अस्‍पताल से छुट्टी दी जा चुकी है।

राष्‍ट्रीय रिकवरी दर बढ़कर 88.63 प्रतिशत हो गई है। ठीक हुए नए रोगियों में से 78 प्रतिशत मामले 10 राज्‍यों और केंद्र शासित प्रदेशों के हैं।कोरोना के ख़िलाफ़ मृत्यु दर एक फ़ीसदी से कम लाने का लक्ष्य रखा गया है। टेस्ट भी तेजी से रहे हैं । अब तक 9 करोड़ से ज्यादा लोगो का टेस्ट हो गया है ।

स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि कोरोना का दुबारा संक्रमण हो सकता है इसलिए मास्क लगाए, दूरी का पालन करें। मंत्रालय के मुताबिक ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है और राज्यों में ऑक्सीजन की सप्लाई सुनिश्चित हो सके इसके लिए समुचित उपाय किए गए हैं । वैक्सीन के मसले पर स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि वैक्सीन देने का प्लान बन गया है जनवरी से जुलाई तक किनको वैक्सीन दिया जाएगा कितने डोज दिए जाएंगे इन सब पर विचार हो रहा है।