गौशाला के निर्माण में आ रही फण्ड की कमी

इस ख़बर को शेयर करें:

जबलपुर :जिला स्तरीय गौशाला परियोजना समन्वय समिति की आज सोमवार को संपन्न हुई बैठक में मुख्यमंत्री गौ सेवा योजनान्तर्गत गौशालाओं के निर्माण कार्य शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिये गये हैं । बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिला पंचायत के सीईओ प्रियंक मिश्रा ने निर्माणाधीन गौशालाओं में चारागाह के विकास कार्य के लिए सभी जरूरी बंदोबस्त करने की हिदायत अधिकारियों को दी । बैठक में उप संचालक पशु चिकित्सा सेवायें डॉ. भारती पाठक तथा सभी संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद थे । जिला पंचायत के सीईओ ने निर्माणाधीन गौशालाओं में बिजली, पानी की उपलब्धता पर भी बैठक में चर्चा की और इसके लिए जरूरी दिशा-निर्देश अधिकारियों को दिये ।

पानी की पर्याप्त उपलब्धता हो, फंड की आ रही कमी
वहीं श्री मिश्रा ने मुख्यमंत्री गौ सेवा योजना के तहत आने वाले वित्तीय वर्ष के लिए गौशाला निर्माण के लिए स्थल के लिए चयन में ऐसे स्थानों को प्राथमिकता देने के निर्देश दिये जहां पानी की पर्याप्त उपलब्धता हो, चारागाह के लिए स्थान हों, जो विद्युत आपूर्ति लाइन के नजदीक हो साथ ही राष्ट्रीय या राज्य के राजमार्ग के समीप हो । सीईओ श्री मिश्रा ने निर्माणाधीन गौशालाओं के संचालन की इच्छुक संस्थाओं के साथ ग्राम पंचायतों के माध्यम से अनुबंध की कार्यवाही भी शीघ्र पूरी करने पर जोर दिया । उन्होंने कहा कि जहां भी गौशाला के निर्माण में फण्ड की कमी आ रही है इसके लिए आयुक्त मनरेगा को राशि आबंटित करने के लिए मांग पत्र भेजा जाये ।श्री मिश्रा ने बैठक में बरगी विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम हीरापुर बंधा में गौ अभ्यारण्य और कुण्डम विकासखण्ड में गौ-वन विहार के बारे में हुई प्रगति का ब्यौरा भी लिया। उन्होंने गौशालाओं के संचालन के लिए सहयोग राशि प्रदान करने वाली इच्छुक समाजसेवी, व्यावसायिक संगठनों को इस हेतु प्रेरित करने की बात कही ।