गंगा हरीतिमा अभियान का शुभारंभ

इलाहाबाद: गंगा किनारे के ग्रामों में हरियाली और वानस्पतिक वातावरण सुधारने की मंशा से सीएम योगी ने शनिवार को इलाहाबाद से गंगा हरीतिमा अभियान का आगाज किया। इस अभियान के तहत बिजनौर से लेकर बलिया तक वनक्षेत्र तैयार किया जाएगा। ये कार्यक्रम वन विभाग द्वारा आयोजित किया गया। यह अभियान शहर में परेड ग्राउंड से लेकर संगम क्षेत्र तक किया जाएगा।

योगी आदित्यनाथ ने परेड मैदान में दीप प्रज्ज्वलित कर गंगा हरीतिमा अभियान की शुरुआत की। मुख्यमंत्री ने कुम्भ के सात अरब के कार्यों का शिलान्यास भी किया। गंगा के दोनों तटों पर एक किलोमीटर की चौड़ाई में पौधे लगाए जाएंगे। मुख्यमंत्री यहां कुंभ से संबंधित कई परियोजनाओं का लोकार्पण करने के साथ ही कुंभ मेला की तैयारियों की समीक्षा बैठक भी की। लगभग छह घंटे के प्रवास में मुख्यमंत्री सबसे पहले परेड ग्राउंड से पर्यावरण संरक्षण का मंत्र दिया। परेड ग्राउंड में 11 बजे से आयोजित कार्यक्रम में गंगा नदी क्षेत्र में वानस्पतिक आच्छादन बढ़ाए जाने का संकल्प दिलाया गया।

इसके अलावा कार्यक्रम में मुख्यमंत्री गंगा स्वच्छता की दिशा में बेहतर कार्य करने वाले विभिन्न संस्थाओं के 49 लोगों को सम्मानित भी करेंगे। सौ से अधिक प्रगतिशील किसानों को मुख्यमंत्री मंच से ही सम्मानित किया। इसमें मुख्यमंत्री प्रगतिशील किसानों एवं गंगा सेवकों को सम्मानित भी किया। गंगा हरितिमा अभियान में गंगा किनारे के 27 जिले शामिल हैं, जिसमें कानपुर, फतेहपुर, उन्नाव, रायबरेली, बदायूं, बनारस आदि जिले प्रमुख हैं। इस कार्यक्रम में कृषि विभाग की खास भागीदारी होगी। जिले के सभी ब्लाकों से मिलाकर 11 हजार किसान इस पर्यावरण जनजागरण का हिस्सा बनें