लखनऊ एनकाउंटर में UP, MP में एटीएस ने किए 8 संदिग्ध गिरफ्तार

लखनऊ@ लखनऊ के ठाकुरगंज में पुलिस और संदिग्ध आतंकियों के बीच मुठभेड़ चल रही है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, कानपुर में एक संदिग्ध के पकड़े जाने के बाद सैफुल्ला के लखनऊ के ठिकाने का पता चला था। इसके बाद हरकत में आई यूपी एटीएस ने इस आतंकी को घर में घेर लिया। मध्य प्रदेश पुलिस से खुफिया जानकारी मिलने के बाद एटीएस ने संदिग्धों को घर में ही घेर लिया था। इसके बाद अांतकियों की ओर से गोलीबारी शुरू की गई।आईएसआई का एजेंट बताए जा रहे एक आतंकी का नाम सैफुल्लाह बताया जा रहा है।

दिन में जब इस आतंकी को जिंदा पकड़ने के लिए ऑपरेशन चलाया जा रहा था। वहीं, जांच में मिल रही जानकारियों के आधार पर कानपुर से तीन अन्य संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया। वहीं, मध्य प्रदेश के पिपरिया से पांच लोगों के गिरफ्तार किए जाने की जानकारी सामने आ रही है। यूपी और एमपी में पुलिस को हाई अलर्ट पर कर दिया गया है।ठाकुरगंज में आईजी एटीएस असीम अरूण, एडीजी एटीएस दलजीत चौधरी सहित कई अधिकारी मौके पर पहुंच चुके हैं। कमांडों और आतंकवादी के बीच रुक-रुक कर फायरिंग जारी है। एडीजी एलओ ने फायरिंग की पुष्टी की। हाजी कालोनी मस्जिद के पास स्थित घर के अंदर छिपे हैं आतंकी।

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश के कालापीपल में भोपाल-उज्जैन ट्रेन की जनरल बोगी में 7 मार्च 2017 की सुबह जो धमाका हुआ है, उससे भी इस आतंकी के तार जुड़े बताए जा रहे हैं। हालांकि, शुरूआत में बताया गया था कि यह धमाका मोबाइल चार्ज करने के दौरान हुआ था।मध्य प्रदेश के गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने भोपाल-उज्जैन पैसेंजर में धमाके के बाद कहा था कि ट्रेन से विस्फोटक की गंध आ रही थी। इसमे आतंकी साजिश होने की बात से इंकार नहीं किया जा सकता है।