महाराष्ट्र के कोपार्डी गैंगरेप के तीनों अभियुक्त दोषी करार

इस ख़बर को शेयर करें:

महाराष्ट्र के अहमदनगर सत्र न्यायालय ने कोपार्डी गैंगरेप केस में तीनों आरोपियों को दोषी करार दिया है. अदालत ने तीनों आरोपियों को दुष्कर्म और हत्या का दोषी पाया है. 21 नवंबर को अदालत सज़ा का एलान करेगी. फ़ैसला आने के बाद पीड़िता की मां ने कहा कि वह फ़ैसले से संतुष्ट हैं.

साथ ही पीड़िता के परिवार वालों ने इच्छा ज़ाहिर की है कि दोषियों को मौत की सज़ा दी जानी चाहिए. तीनों आरोपियों जितेंद्र बाबूलाल शिंदे, संतोष गोरख भावल और नितिन गोपीनाथ भैलुमे को गैंगरेप, आपराधिक षडयंत्र रचने और हत्या के अलावा पोस्को की विभिन्न धाराओं के तहत दोषी करार दिया गया है.

अहमदनगर के कारजात ताल्लुके के कोपार्डी गांव में 13 जुलाई, 2016 को शाम पौने सात से साढ़े सात बजे के बीच सामान लेकर लौट रही 15 साल की एक लड़की को तीनों आरोपियों ने रास्ते में पकड़ लिया और उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया. बलात्कार करने के बाद उन्होंने पीड़िता की गला घोंटकर हत्या कर दी थी.