आगरा: शादी विवाह में सिर्फ 100 लोगों को दें इजाजत, महापौर ने की जिला प्रशासन से मांग

इस ख़बर को शेयर करें:

आगरा@ जिला प्रशासन द्वारा शादी-समारोह को लेकर नई गाइडलाइंस जारी की गई है जिसके मुताबिक शादी समारोह में सिर्फ 100 लोग ही एकत्रित हो सकते हैं, बैंड बाजा बारात निकालने पर भी रोक लगा दी गई है. खास बात यह है कि शादी में एकत्रित होने वाले इन 100 लोगों में हलवाई वाले, उनके कारीगर के साथ अन्य स्टाफ भी शामिल होंगे. इस नई गाइडलाइन पर आगरा महापौर नवीन जैन ने चिंता व्यक्त की है. महापौर ने कहा है कि सहालग बिल्कुल नजदीक आ चुका है.

जिन परिवारों में अगले 10-20 दिनों में शादियां हैं, कार्ड बट चुके हैं, हलवाई की बुकिंग हो चुकी है, ऐसे में उन परिवारों में नई गाइडलाइन को लेकर चिंता का माहौल है. ऐसे सभी लोगों की परेशानी और समस्याओं को समझते हुए महापौर नवीन जैन ने आगरा प्रशासन से मांग की है कि केंद्र सरकार द्वारा जारी की गई पहले की गाइडलाइन जिसमें शादी समारोह में 200 लोगों के एकत्रित होने की अनुमति है, को 15 दिसंबर तक के लिए बहाल किया जाए और उसी गाइडलाइन के अनुसार शादी समारोह हो.

महापौर नवीन जैन ने चिंता जताई है कि नजदीकी तिथियों में जिन घरों में शादियां हैं, कार्ड बंट चुके हैं उन्हें नई गाइडलाइंस का पालन करने में परेशानी आएगी. अगर इसका समाधान नहीं निकाला गया तो स्थानीय स्तर पर पुलिसकर्मी बैंकट हॉल, मैरिज होम या जिन घरों में शादी है वहां जाकर उन्हें अनावश्यक रूप से परेशान या उत्पीड़न कर सकते हैं.

इसके अलावा भ्रष्टाचार होने की भी संभावना बन सकती है. इसलिए अभी एकदम से शादी समारोह को लेकर कड़ाई ना की जाए. शादी वाले घरों में हलवाई, डीजे, फूल सजावट, बैंड बाजे आदि की एडवांस बुकिंग भी हो चुकी है लेकिन नई गाइडलाइन आने से अब सभी पशोपेश में है.

जहां एक तरफ परिवारों को आर्थिक नुकसान होने के साथ यह समझ नहीं आ रहा कि किसे बुलाएं और किसे मना करें तो वहीं शादी समारोह में काम करने वाले हलवाई और कारीगरों को यह चिंता खाए जा रही है की शादी के शुभ मुहूर्त के गिने-चुने दिन हैं, उसमें भी अगर उन्हें काम नहीं मिला तो उनके परिवार में भुखमरी की स्थिति आ जाएगी.

इन सभी को लेकर महापौर नवीन जैन ने मांग की है कि 15 दिसंबर तक के शादी समारोह को नई गाइडलाइन से मुक्त किया जाए. मांगलिक अवसरों को करने दें, अभी उनके साथ छेड़खानी ना करें. 15 दिसंबर के बाद नई गाइडलाइन का पालन करने में फिर किसी को भी कोई परेशानी नहीं आएगी।

महापौर नवीन जैन ने सभी आगरा वासियों से यह अपील की है कि शादी समारोह के कार्यक्रम आमतौर पर रात 9 बजे से शुरू किए जाते हैं, इसमें बदलाव करके शाम 6:00 बजे से ही लोगों को आने का न्योता दे और मांगलिक कार्यक्रम की शुरुआत कर दें जिससे एक समय में एक जगह पर ज्यादा लोग एकत्रित ना हो पाए और आपका समारोह भी बिना किसी रोक-टोक के पूर्ण हो सके। इसके अलावा योगी सरकार और आगरा प्रधासन द्वारा कोविड 19 को लेकर जो गाइडलाइंस जारी की गई है, उनका पूर्ण रूप से पालन करें. समारोह में हमेशा मास्क लगाकर जाएं और सोशल डिस्टेंस बना कर रखें.