क्या आप माइक्रोमैक्स फोन खरीदेंगे, मैं इस विज्ञापन की बात कर रहा हूँ ?

चीन के खिलाफ माइक्रोमैक्स के फाउंडर राहुल शर्मा की ये धमाकेदार घोषणा शायद आपके दिल को छू जाये, नवंबर 2020 में माइक्रोमैक्स भारत में वापस आ रहा है।  अपने यदि आप मुझे यही सवाल 4 साल पहले पूछते तो मैं आपको जवाब हाँ में देता | पर अब मेरा जवाब “नहीं” है | इंडिया-चाइना स्टैंडआफ को ध्यान में रखते हुए, यदि आप माइक्रोमैक्स विज्ञापन को देख कर, उसी ब्रांड का फ़ोन लेने को सोच रहे है तो रुक जाइये | मैं इस विज्ञापन की बात कर रहा हूँ |

instagram

माइक्रोमैक्स देश का स्मार्टफोन है, यह कैसे हो गया?

इस कंपनी के सीईओ इंडियन है, ऐसे तो गूगल के भी सीईओ इंडियन है | भले ही वे अब भारत से निकलकर अमेरिका में बस गए हो, और यदि माइक्रोमैक्स को आंकड़े से तोला जा रहा है, ( एक साल में सबसे ज़्यादा यूनिट बेचे पर ) तो ऐसे सिआओमि और ओप्पो/वीवो भारत का स्मार्टफोन क्यों नहीं बना |

हालांकि माइक्रोमैक्स के सीईओ की तरफ से ये वीडियो आना थोड़ा इमोशनल है, और अत्याचार भी | देखिये माइक्रोमैक्स एक बिज़नेस है | हर एक बिज़नेस मार्किट में बना हुआ है, उनके लॉयल फैन (loyal fans) की बदौलत | माइक्रोमैक्स भी यही करने की कोशिश कर रहा है | वह अपने ब्रांड के लॉयल फैन/कस्टमर को माइक्रोमैक्स को फिर से मार्किट में खड़ा करने की अपील कर रहा है |

और मेरी राय में हर एक कंपनी, बिज़नेस या ब्रांड मार्किट के वापिस आने के लिए यही करता है | नोकिआ ने 2017 में यही किया | अपने ब्रांड के नाम को और पुराने मॉडल के फ़ोन को नया तड़का लगा कर बेचा | 2000 में स्टीव जॉब्स की एप्पल में फिर से एंट्री के बाद उन्होंने Mac-intosh मॉडल्स को लांच कर यही चीज दोहराई थी | बाद में नए प्रोडक्ट से मार्किट में अच्छे से पकड़ बना ली |

1990 के मध्य में Marvel कॉमिक्स का कॉमिक्स मार्किट क्रैश होने के बाद कंपनी के पास कोई नए आईडिया नहीं थे | पर अपने loyal fans की बदौलत, Marvel फिल्म बिज़नेस में उतरा | और X-Men सीरीज के बाद कुछ बेहतरीन फिल्में दी | मैं ये सारे उदाहरण इसलिए दे रहा हूँ, क्युकी मैंने आपको ये बताना चाहता हूँ की माइक्रोमैक्स के सीईओ द्वारा शेयर किया गया ये इमोशनल मैसेज एक मार्केटिंग स्ट्रेटेजी है |

माइक्रोमैक्स के बिज़नेस को फिरसे खड़ा करने के लिए | यदि आपको लगता है माइक्रोमैक्स के फ़ोन अच्छे होंगे, तो आप ज़रूर खरीदिए | पर किसी रिकॉर्ड वीडियो को देखकर नहीं | प्रोडक्ट अच्छा होगा तो मार्किट में बिकेगा ही | माइक्रोमैक्स की क्या बात, कार्बोन, लावा, इंटेक्स और iball सब बिकेंगे | बस फ़ोन के साथ-साथ चार्ज भी दे | एप्पल मत बनिये |

माइक्रोमैक्स स्मार्टफोन कैसे हो सकते हैं ?
माइक्रोमैक्स की के सीईओ ने एक यूट्यूब चैनल पर इंटरव्यू दिया जिसमें उन्होंने बताया कि माइक्रोमैक्स फोन जो भी यूट्यूब पर यूट्यूबर लोग कल्पना कर रहे हैं वह उनकी कल्पना और उम्मीद से ज्यादा अच्छा होगा उन्होंने यहां बताया कि उन्होंने यह भी बताया कि वह 7000 से 15000 के बीच के स्मार्टफोन के साथ गेमिंग स्माटफोन भी अच्छे प्राइस वह अच्छे फीचर के साथ लांच करेंगे जो कि अन्य स्मार्टफोंस कंपनियों को कड़ी से कड़ी टक्कर देंगे और यह स्मार्टफोन 30 नवंबर से लॉन्च होना भी शुरू हो जाएंगे ऐसा उनके द्वारा बताए गए हैं

जरुरत है चुनौती पर पूरी तरह खरा उतरने की
चलिए कुछ और भी बातें जान लेते हैं माइक्रोमैक्स के सीईओ ने कहां की स्मार्टफोन रात भर में या फिर दो चार हफ्तों में फैसला लेकर नहीं बनाया जा रहा है बल्कि इसके पीछे साल से 2 साल पहले से ही काम चल रहा है जबकि इस समय देश को जरूरत है अपने देश से स्मार्टफोन की क्योंकि इस समय हम चाइनीस फोन को boycott और करने की कोशिश कर रहे हैं तो वह इह चुनौती पर पूरी तरह खरा उतरने की पूरी कोशिश करेंगे।

वह कम से कम कीमत में ज्यादा से ज्यादा फीचर देने की कोशिश करेंगे। साथ में उन्होंने यह भी बताया कि यह सभी स्मार्ट स्टॉक एंड्राइड होंगे जिसमें की किसी भी प्रकार adds नहीं होंगे और बिल्कुल clean experience होगा जो कि बहुत बड़ी बात है और माइक्रोमैक्स के सीईओ ने यह बात भी कहीं की इस इन स्मार्टफोन के सभी पार्ट भारत में बनाए गए है।