मुख्तार अंसारी के करीबी कोयला माफिया की अवैध रूप से अर्जित साढ़े छह करोड़ की संपत्ति जब्त

कोयला माफिया की अवैध रूप से अर्जित साढ़े छह करोड़ की संपत्ति में साढ़े पांच करोड़ का मॉल ही है। इसके अलावा कई वाहनों को जब्त किया गया है। इसमें ट्रक, फोरव्हीलर समेत कई गाड़ियां हैं

मऊ। सदर विधायक और बाहुबली मुख्तार अंसारी के करीबी कोयला माफिया उमेश सिंह का भीटी चौराहा स्थित शॉपिंग मॉल समेत करोड़ों की संपत्ति को पुलिस ने जब्त कर ली, मन्ना सिंह हत्याकांड में मुख्तार का सह अभियुक्त उमेश सिंह के खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई के बाद यह जब्ती हुई है, पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य के निर्देश पर कार्रवाई के दौरान सिटी मजिस्ट्रेट जे एन सचान, क्षेत्राधिकारी नगर नरेश कुमार भारी संख्या में पुलिस बल मौजूद रहा। कई लग्जरी गाड़ियां भी जब्त की गई हैं।

भीटी चौराहे पर स्थित शॉपिंग मॉल पर फोर्स के साथ पहुंचे अधिकारियों ने पहले ढोल नगाड़ों के साथ जप्ती का एलान किया, इसके बाद लाउडस्पीकर से सभी दुकानदारों और ग्राहकों को मॉल खाली करने को कहा, मॉल खाली करने का ऐलान होते ही हड़कंप मच गया। ग्राहक तो तुंरत बाहर आ गए लेकिन दुकानदारों की दिक्कत बढ़ गई, दोपहर दो बजे तक दुकानदार मॉल खाली करने की कोशिश में जुटे रहे,

एसपी ने बताया कि कोयला माफिया की अवैध रूप से अर्जित साढ़े छह करोड़ की संपत्ति जब्त की गई है। इसमें साढ़े पांच करोड़ का मॉल ही है। इसके अलावा कई वाहनों को जब्त किया गया है। इसमें ट्रक, फोरव्हीलर समेत कई गाड़ियां हैं। एसपी ने बताया कि पिछले दो दशक से कोयला माफिया के रूप में उभरा है। इंदारा में कोल डीपो का संचालन होता है। अन्य व्यापारियों को डरा धमकाकर मोनोपोली क्रिएट की गई है। इनकी अन्य संपत्तियों की जानकारी हासिल की जा रही है। इनके परिवार और करीबियों की संपत्ति की जानकारी भी ली जा रही है।

पिछले कुछ दिनों से लगातार पूर्वांचल के जिलों में मुख्तार के करीबियों पर शिकंजा कसा जा रहा है। वाराणसी, गाजीपुर, आजमगढ़ में भी बड़े पैमाने पर मुख्तार के परिवार के सदस्यों और करीबियों की संपत्ति जब्त की गई है। काफी लोगों के असलहे भी जमा करा लिये गए हैं।