नौगांव, ईशानगर, कुर्रा रोड का राज्यमंत्री ने किया भूमिपूजन

छतरपुर @ नौगांव से ईशानगर होते हुए कुर्रा तक की सडक़ का डामरीकरण कार्य का आज ग्राम कीरतपुरा के बस स्टैण्ड पर राज्यमंत्री ललिता यादव ने महाराजपुर विधायक मानवेन्द्र सिंह भंवरराजा की उपस्थिति में समारोहपूर्वक भूमिपूजन किया। इस सडक़ के निर्माण पर 18 करोड़ 54 लाख रुपए की लागत आएगी। समारोह में छतरपुर जनपद अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह यादव विशेष तौर पर मौजूद थे।

राज्यमंत्री ललिता यादव ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि इस रोड को बनवाने के लिए उन्होंने अथक प्रयास किए। करीब दो साल पहले इस रोड का एक करोड़ रुपए के पेंचवर्क का टेंडर हो गया था। उन्होंने पेंचवर्क का विरोध कर किसी तरह टेंडर निरस्त कराया और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मिलकर इसे सीमेंट कांक्रीट से बनाने पर जोर दिया। इसके लिए 64 करोड़ स्वीकृत भी हो गए थे लेकिन उसके निर्माणकार्य में समय ज्यादा लगना था। सडक़ की हालत बेहद जर्जर होने के कारण क्षेत्र के लोगों ने तत्काल डामरीकरण कराने की मांग की जिससे अब यह रोड सीसी के बजाय डामर से बनेगा। उन्होंने क्षेत्र के सभी लोगों से कहा कि सडक़ निर्माणकार्य की गुणवत्ता अच्छी रहे इसके लिए वे सजग प्रहरी बनकर उस पर निगाह लगाए रहें।

इस अवसर पर राज्यमंत्री ललिता यादव ने बताया कि इसके अलावा क्षेत्र के 3 अन्य रोड भी स्वीकृत हो गए हैं। अचट्ट से सलैया, टपरियन से अचट्ट और सुकवां से लछलपुरा रोड के लिए 4 करोड़ 50 लाख रुपए स्वीकृत हुए हैं। उन्होंने ग्रामीणों से गेहूं खरीदी केन्द्र में परेशानी के बारे में भी पूछताछ की और गेहूं के बोनस, सूखा राहत तथा भावान्तर की राशि प्राप्त होने की जानकारी ली। महाराजपुर विधायक मानवेन्द्र सिंह भंवरराजा ने कहा कि राज्यमंत्री ललिता यादव के प्रयासों से यह सडक़ स्वीकृत हुई है, उम्मीद है कि निश्चित समय में इसका काम पूरा होगा। उन्होंने लोगों से अधिकारियों और ठेकेदार का सहयोग करने को कहा।

35.90 किमी लम्बी यह सडक़ नौगांव से चंदौरा, पुरवा, बरा, कीरतपुरा, आमखेरा, ईशानगर होते हुए विहटा और कुर्रा तक बारिश के समय को छोडक़र 10 माह में पूरी करने का लक्ष्य दिया गया है। इस सडक़ निर्माण कार्य का ठेका रामराजा कंस्ट्रक्शन पृथ्वीपुर को मिला है। इस अवसर पर भाजपा नेता जितेन्द्र सिंह जित्तू, भारती साहू, ममता अहिरवार, विष्णु माफीदार, सचिन पाठक, रामाधार मिश्रा, रवि तिवारी, वृन्दावन तिवारी, अनिकेत माफीदार, विजय सिंह के अलावा रघुनाथ शर्मा, मारुति अरजरिया, सुनील शर्मा, गोकुल यादव, पप्पू यादव, गुलाब यादव, संतोष तिवारी, हरिओम तिवारी, रघुवीर पाराशर, सियाराम यादव, विश्वनाथ चतुर्वेदी, पप्पड़ पाराशर, मानवेन्द्र तिवारी और शंकर यादव सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।