3 लाख से ज्यादा के कैश ट्रांजेक्शन पर उतना ही जुर्माना

नई दि‍ल्‍ली@ एक इंटरव्‍यू में रेवेन्‍यू सेक्रेटरी हसमुख अढि‍या ने कहा कि‍ कैश में ट्रांजैक्‍शन करने वालों पर बड़ा जुर्माना लगाया जाएगा। एक अप्रैल के बाद नकद लेनदेन करने वालों को इसकी भारी कीमत चुकानी होगी। कैश लेने वाले शख्‍स पर जि‍तनी रकम उसने कैश में ली है उसके बराबर पेनल्‍टी लगाई जाएगी। इस बार के बजट में नए वि‍त्‍तीय वर्ष से 3 लाख रुपये से ऊपर की कैश ट्रांजेक्‍शन पर रोक लगा दी गई है।

50 लाख की ट्रांजेक्‍शन पर 50 लाख पेनल्‍टी उन्‍होंने कहा, ‘मान लें, आप चार लाख रुपये नकद लेते हैं तो पेनल्‍टी 4 लाख रुपये होगी। अगर आप 50 लाख की ट्रांजेक्‍शन करते हैं तो जुर्माना भी 50 लाख रुपये होगा। यह उससे वसूला जाएगा तो नकद में पैसा लेगा। अगर कि‍सी ने कैश पेमेंट कर महंगी घड़ी खरीदी है तो दुकानदार को टैक्‍स देना होगा। यह सब इंतजाम इसलि‍ए कि‍या जा रहा है ताकि‍ लोग नकद लेनदेन से बचें।

अढि‍या ने कहा कि‍ नोटबंदी की बदौलत सरकार को ब्‍लैक मनी के बारे में जानकारी मि‍ल गई है अब सरकार नई ब्‍लैक मनी पैदा होने से रोकना चाहती है। सरकार हर बड़ी कैश ट्रांजेक्‍शन पर नजर रखेगी और नकदी खर्च करने के ठि‍कानों को भी बंद करेगी।

जि‍न लोगों के पास ढेर सारा कालाधन होता है वो इसे घूमने फि‍रने, गाड़ी, महंगी घड़ी और गहने खरीदने में खर्च करते हैं। नकदी पर लगी रोक यह तय करेगी कि‍ ब्‍लैकमनी को खपाने के ये रास्‍ते बंद हो जाएं ताकि‍ लोग दो नंबर की कमाई न करें। अढि‍या ने कहा कि‍ 2 लाख रुपये से ऊपर के कैश ट्रांजैक्‍शन पर पैन नंबर देने का नि‍यम बरकरार है।

वि‍त्‍त मंत्री अरुण जेटली ने अपने बजट भाषण में कहा था कि‍ कोई भी शख्‍स एक दि‍न में कि‍सी एक शख्‍स से तीन लाख या उससे ऊपर की रकम कैश में नहीं लेगा। हालांकि‍ यह नि‍यम सरकार, बैंक, पोस्‍ट ऑफि‍स और को ऑपरेटि‍व बैंक पर लागू नहीं होगा।

आढि‍या ने कहा कि‍ आंध्र प्रदेश के मुख्‍यमंत्री चंद्रबाबू नायडू की अध्‍यक्षता वाले एक पैनल ने अपनी अंतरि‍म रि‍पोर्ट में कहा था कि‍ लोगों को नकद लेनदेन से दूर रखने..के लि‍ए इसकी सीमा तय की जाए और 50 हजार रुपये से ऊपर कैश ट्रांजेक्‍शन पर टैक्‍स लगाया जाए। यह रि‍पोर्ट बजट से चंद दि‍नों पहले ही आई थी।