मध्य प्रदेश-अंतर्राष्ट्रीय धर्म-धम्म सम्मेलन अक्टूबर में आयोजित होगा
साँची
बौद्ध-भारतीय ज्ञान अध्ययन विश्वविद्यालय द्वारा अंतर्राष्ट्रीय धर्म-धम्म सम्मेलन
आगामी अक्टूबर माह में आयोजित किया जायेगा। विश्वविद्यालय में सहायक प्राध्यापकों
की नियुक्ति में अधिकतम आयु सीमा के बंधन को समाप्त कर योग्यता के आधार को
प्राथमिकता दी जायेगी। यह निर्णय आज यहाँ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की
अध्यक्षता में संपन्न साँची बौद्ध विश्वविद्यालय की साधारण परिषद की बैठक में लिये
गये। बैठक में वित्त मंत्री जयंत मलैया भी उपस्थित थे।
बैठक में बताया
गया कि श्रीलंका द्वारा विश्वविद्यालय में अध्ययन केंद्र स्थापित किया जायेगा। इस
संबंध में श्रीलंका के प्रधानमंत्री का पत्र मुख्यमंत्री चौहान को वेन बनागला
उपतिस्सा नायके थेरो ने सौंपा। बैठक में विश्वविद्यालय के अधिकारी कर्मचारियों के
लिये अंशदायी पेंशन योजना लागू करने के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया।
विश्वविद्यालय की कार्य परिषद द्वारा शैक्षणिक शुल्क एवं छात्रवृत्ति नियम,
प्रवेश परीक्षा नियम, परीक्षा नियम और होस्टल संचालन नियम का अनुमोदन किया गया।
विश्वविद्यालय में कुलपति पद पर नियुक्ति के लिये सर्च कमेटी द्वारा दिये गये पेनल
को राज्यपाल को अनुशंसा की गयी।

 

बैठक में
साधारण परिषद के सदस्य प्रो. सिद्धेश्वर रामेश्वर भट्ट,
डॉ. कपिल कुमार, डॉ. एगिल लोथ, अपर मुख्य सचिव वित्त ए.पी. श्रीवास्तव,
प्रमुख सचिव संस्कृति मनोज श्रीवास्तव,
प्रमुख सचिव उच्च शिक्षा आशीष उपाध्याय,
मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव एस.के. मिश्रा और विश्वविद्यालय
के रजिस्ट्रार राजेश गुप्ता भी उपस्थित थे।