उपभोक्ताओं से नगर निगम पेनाल्टी के साथ जोर जबरदस्ती करके वसूल रहा है टैक्स

इस ख़बर को शेयर करें:

जबलपुर। प्रदेश में कोराना वायरस संक्रमण फैलने के चलते सरकार ने लोगों को नगर निगम के सभी तरह के टैक्सों को जमा करने की समय सीमा समाप्त हो चुकी है। इस समयावधि में टैक्स जमा करने पर उपभोक्ताओं से नगर निगम अधिभार शहीद टैक्स वसूल रहा है। पहले यह टैक्स जमा करने की अंतिम तारीख 31 मार्च तक तय की गई थी। इसके साथ ही टैक्स जमा करने के लिए नगर निगम के कर्मचारियों द्वारा उपभोक्ताओं पर दबाव नहीं बनाया जा जाएगा।

अब कर्मचारियों द्वारा उपभोक्ताओं से जल कर, संपत्ति कर, उपभोक्ता प्रभार सहित अन्य करों को वसूलने के लिए उपभोक्ताओं पर दबाव बना कर पेनल्टी के साथ वसूला जा रहा है। जिसके भुक्त भोगी है शिवनगर स्थित सोमैया ढेरी संचालक, ये बताते है कि नगर निगम के कर्मचारियों द्वारा इनसे 100 रुपये की पेनल्टी के साथ संपत्ति कर वसूला है।कोराना के चलते लॉकडाउन से लोगों का कारोबार प्रभावित हो रहा है। इससे उनकी वित्तीय स्थिति पर भी प्रभावित हुई है। पर निगम है कि कोरोनावायरस की मार झेल रहे इन व्यापारियों पर जरा भी रहम करने को तैयार नहीं है।

वही नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग ने नगर निगम के अधिकारियों से कहा कि वे लोगों को ऑन लाइन प्रापर्टी टैक्स जमा करने के लिए सुझाव दें वा लोगों को ऑनलाइन पेमेंट करने के लिए जागरूक करें।

इस संबंध में कचरा वाहन सहित अन्य नगरीय निकाय के वाहनों और होर्डिंग के जरिए से प्रचार-प्रसार कर लोगों को एटीएम, पेटीएम, नेट बैंकिंग के माध्मय से टैक्स जमा करने के लिए प्रेरित करें। इसके साथ ही कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए भी लोगों को जागरुक करें, जिससे इसे फैलने से रोका जा सके।

इस मामले में नगर निगम आयुक्त का कहना है कि “उपभोक्ताओं से जल कर, संपत्ति कर, लिया जा रहा है पेनल्टी न लेने के लिए शासन को लिखा है अगर माफ़ होती है तो उसे उपभोक्ताओं को वापस कर दी जायेगी”- आशीष कुमार नगर निगम आयुक्त जबलपुर