केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर बोर्ड का नाम बदला

देश में अप्रत्यक्ष कर की नई व्यवस्था जीएसटी को लागू करने की दिशा में आगे बढ़ते हुए सरकार, केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर बोर्ड, सीबीईसी का नाम बदलकर केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर एवं सीमा शुल्क बोर्ड यानि सीबीआईसी करने जा रही है।

जीएसटी एक जुलाई, 2017 से लागू किया जाना है। वित्त मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है कि सीबीआईसी अपने सभी क्षेत्रीय कार्यालयों, निदेशालयों के काम का निरीक्षण करेगी और सरकार को जीएसटी के मामले में नीति बनाने में सहायता करेगी।

इसके साथ ही वह केन्द्रीय उत्पाद एवं सीमा शुल्क लगाने संबंधी अपने काम को भी जारी रखेगी। नये नाम वाले वस्तु एवं सेवाकर महानिदेशालय का विस्तार किया जा रहा है, ताकि कर चोरी रोकने और कालेधन के ख़िलाफ़ सरकार की लड़ाई में इसे एक महत्वपूर्ण विभाग बनाया जा सके।