कैबिनेट में नरोत्तम मिश्रा को ‘नो एंट्री’, शिवराज से भी नहीं हुई मुलाकात

पेड न्यूज मामले में अयोग्य करार दिए गए मध्य प्रदेश के जनसंपर्क मंत्री नरोत्तम मिश्रा, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मिलने उनके निवास पहुंचे. हालांकि, मुख्यमंत्री से उनकी मुलाकात ठीक से नहीं हो सकी.

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि शिवराज सिंह चौहान और नरोत्तम मिश्रा के बीच मुलाकात गुरुवार को विधानसभा की कार्रवाई खत्म होने के बाद होगी. नरोत्तम मिश्रा ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि वो कैबिनेट और विधानसभा में हिस्सा नहीं लेंगे, क्योंकि मामला न्यायालय में विचाराधीन है. वहीं, इस मामले पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कुछ भी बोलने से इंकार कर दिया.

पेड न्यूज मामले में चुनाव आयोग ने नरोत्तम मिश्रा को अयोग्य ठहराते हुए तीन साल तक उनके चुनाव लड़ने पर रोक लगा दी है. फैसले के खिलाफ हाईकोर्ट से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक का दरवाजा खटखटा चुके नरोत्तम को हर जगह निराशा ही हाथ लगी है.

सत्ता की बिसात पर नरोत्तम मिश्रा की ‘बल्लेबाजी’ से खुद सीएम शिवराज उन्हें अपनी कैबिनेट का ‘तेंदुलकर’ कहते हैं. सरकार के प्रवक्ता के साथ-साथ सदन में संसदीय कार्य मंत्री का दायित्व और जनसंपर्क विभाग के साथ जल संसाधन विभाग की जिम्मेदारी निभाने वाले नरोत्तम अब अपनी राजनीतिक करियर के सबसे मुश्किल दौर से गुजर रहे है.