राष्ट्रीय पोषण सप्ताह का आज से आयोजन

विदिशा @राष्ट्रीय पोषण सप्ताह का आयोजन जिले में भी एक से सात सितम्बर के दरमियान किया जाएगा। अभियान के उद्देश्यों और व्यापक प्रचार-प्रसार में मीडियाकर्मियों की सहभागिता हो इसके लिए गुरूवार को एक दिवसीय मीडिया कार्यशाला का आयोजन किया गया था। कलेक्ट्रेट के सभाकक्ष में हुई मीडिया कार्यशाला में एकीकृत बाल विकास सेवाएं के जिला कार्यक्रम अधिकारी बृजेश शिवहरे ने राष्ट्रीय पोषण सप्ताह आयोजन के उद्देश्यों को विस्तारपूर्वक बताया कि उन्होंने बाल मृत्यु को कम करने और कुपोषण को रोकने के लिए जिले में किए जा रहे कारगर प्रयासों को भी रेखांकित किया। कार्यशाला में बताया गया कि जन्म के एक घंटे के भीतर माताएं नवजात शिशु को स्तनपान अनिवार्यतः कराएं। बच्चों को छह माह के पश्चात् ऊपरी आहार देने की शुरूआत की जाए। तरल पदार्थ के रूप में ऊपरी आहार कैसे तैयार करना, बच्चे को खिलाना इत्यादि की जानकारी पावर प्रेजेन्टेशन के माध्यम से दी गई।

कार्यशाला में बताया गया कि बच्चे को पूरक आहार के साथ-साथ स्तनपान दो वर्ष या इससे अधिक तक जारी रखा जा सकता है। छह माह के पहले आहार की शुरूआत करने से होने वाली हानियां, बीमारियों की जानकारी इस दौरान दी गई।
डॉ. प्रदीप गुप्ता ने बच्चों के स्वास्थ्य पर पढ़ने वाले प्रतिकूल असर, सावधानियों के संबंध में बताया। उन्होंने कहा कि यदि बच्चों को किसी भी प्रकार की तकलीफ हो तो इलाज में चिकित्सक की सलाह जरूर लें। शासकीय कन्या महाविद्यालय की डायटिस्ट प्रोफेसर के द्वारा महिलाओं को गर्भधारण के दौरान अपने आहार में किन खाद्य पदार्थो का अधिक सेवन करना चाहिए और किन खाद्य पदार्थों से बचें की जानकारी दी गई। वही नवजात शिशु कुपोषित ना हो इसके लिए आहारो की जानकारी उनके द्वारा सूचीबद्ध कराई गई है।

कार्यशाला के माध्यम से मीडियाकर्मियों से आग्रह किया गया कि वे राष्ट्रीय पोषण सप्ताह के प्रति आमजनों में जागरूकता बढ़े इसके लिए प्रचार-प्रसार में अपना योगदान देने का कष्ट करें। सप्ताह भर आयोजित होने वाली गतिविधियों के संबंध में बताया गया कि एक सितम्बर को पोषण परामर्श सत्र, दो को पोषण बाल सभा तथा बच्चों में व्यक्तिगत स्वच्छता पर चर्चा, चार को संतुलित पोषण थाली प्रतियोगिता, पांच को गोद भराई तथा परामर्श, टीएचआर की नई व स्वादिष्ट रेसिपी की जानकारी, छह को पोषण दस्तक तथा पोषण प्रश्नोत्तरी भरना, ग्राम की पोषण वाटिका का कृषि विभाग के अमले का भ्रमण एवं सुझाव, सात सितम्बर को कन्या महाविद्यालय में पोषण परिचर्चा तथा विद्यालयों में निबंध प्रतियोगिता ‘‘कैसा हो अपने गांव का संतुलित भोजन’’ विषय पर आयोजित की जाएगी। कार्यशाला में श्रीमती रेखा श्रीवास्तव, विभाग के सहायक संचालक विवेक शर्मा एवं मीडियाकर्मी मौजूद थे।