प्राकृतिक रेत (Natural Sand) बनाम पीसी हुई रेत (Crushed Sand)

रेत निर्माण कार्य में महत्वपूर्ण तत्वों में से एक है। निर्माण कार्यों में बड़ी मात्रा में कंक्रीट का इस्तेमाल होता है। कंक्रीट की 35% मात्रा में रेत शामिल होती है। आमतौर पर सीमेंट और मोटी रोड़ी संग्रह कारखाने में बने उत्पाद होते हैं और इसलिये उनकी गुणवत्ता और मानकों को आसानी से नियंत्रित और कायम रखा जा सकता है।

रेत आमतौर पर नदी के ताल में या नदी के किनारे पर खुदाई करके निकाली जाती है। रेत के प्राकृतिक भंडार लगातार खुदाई से खाली होते जा रहे हैं और इसके कारण पर्यावरण को कई तरीकों से नुकसान भी पहुंच रहा है। चूंकि उपयोग के स्थल के पास उपयुक्त प्राकृतिक रेत (Natural Sand) का भंडार खत्म होता जा रहा है, अच्छी प्राकृतिक रेत (Natural Sand) की कमी के कारण कंक्रीट उत्पाद में काफी बाधाएं आ रही है। निर्माण उद्योग को इस चुनौती को हल करने की बड़ी आवश्यकता है।

इसके परिणाम स्वरूप रेत की गुणवत्ता भी खराब होती जा रही है, विशेष रूप से इसमें तलछट (silt) होती है। निर्माण कार्यों में पीसी हुई रेत (Crushed Sand) का इस्तेमाल करके इस चुनौती को हल करने की जरूरत है। निर्माण उद्योग में रेत की बढ़ती मांग को ध्यान में रखते हुए पीसी हुई रेत प्राकृतिक रेत (Natural Sand) का एक बेहतर विकल्प है। इसीलिए यहां हम आपको सही विकल्प चुनने में मदद करने के लिए इन पदार्थों की संक्षिप्त तुलना करेंगे।

01. स्त्रोत
पीसी हुई रेत (Crushed Sand) (उत्पादितरेत) – पीसी हुई रेत (Crushed Sand) का स्त्रोत खदान, या पत्थर की खान होती है। इसका उत्पादन कारखानों या खदानों में चट्टानों को, खदान के पत्थरों को, या बड़े टुकड़ों को रेतके नाप के कणों में कुचल कर किया जाता है।

प्राकृतिक रेत (Natural Sand)- यह प्राकृतिक रूप में उपलब्ध है और इसे नदी के ताल या नदी के किनारे से निकाला जाता है।

02. गुण
(a) आकार
पीसी हुई रेत (Crushed Sand) (उत्पादितरेत)-  पीसी हुई रेत (Crushed Sand) का आकार घनीय और कोणीय होता है और उसकी सतह रुखी होती है और इसीलिए कंक्रीट के लिए बेहतर है।
प्राकृतिक रेत (Natural Sand) – प्राकृतिक रेत (Natural Sand) का आकार गोलाकार होता है और उसकी सतह मुलायम होती है।

(b) नमी की मात्रा
पीसी हुई रेत (Crushed Sand) (उत्पादितरेत)– कोई नमी की मात्रा नहीं होती है।
प्राकृतिक रेत (Natural Sand)– आमतौर पर कणों के बीच नमी मौजूद होती है। इसीलिए यह कंक्रीट मिश्रण की डिजाइन और कंक्रीट की गुणवत्ता की धारणाओं पर असर करती है।

(c) कंक्रीट की मजबूती
पीसी हुई रेत (Crushed Sand) (उत्पादितरेत)–  पीसी हुई रेत (Crushed Sand) से बनाए हुए कंक्रीट की संपीड़न शक्ति (कोम्प्रेसीव स्ट्रेन्थ) और मुड़ने की शक्ति (फ्लेक्षरल स्ट्रेन्थ) प्राकृतिक रेत (Natural Sand) से ज्यादा होती है।
प्राकृतिक रेत (Natural Sand)- प्राकृतिक रेत (Natural Sand) से बनाए हुए कंक्रीट की संपीड़न शक्ति (कोम्प्रेसीव स्ट्रेन्थ) और मुड़ने की शक्ति पीसी हुई रेत (Crushed Sand) से कम होती है।

(d) तलछट (पानी के बहाव से लाई हुई मिट्टी या रेत) की मात्रा
पीसी हुई रेत (Crushed Sand) (उत्पादितरेत) – इसमें तलछट (silt) नहीं होती है क्योंकि इसका उत्पादन चट्टानों और पत्थरों को पीसकर किया जाता है। लेकिन अगर क्रशर प्लान्ट की जाली उचित ना हो तो कभी-कभी उसमें धूल भी हो सकती है।
प्राकृतिक रेत (Natural Sand) – नदी के पानी में जलग्रह के क्षेत्र में मिट्टी के क्षरण के कारण इसमें तलछट (silt) होती है। इसीलिए कार्य स्थल पर इसे धोना बहुत ही जरूरी होता है।

(e) बड़े पदार्थ
पीसी हुई रेत (Crushed Sand) (उत्पादितरेत)- इसका उत्पादन कृत्रिम रूप से किया जाता है, इसीलिए इसमें बड़े आकार के पदार्थ नहीं होते हैं।
प्राकृतिक रेत (Natural Sand)- प्राकृतिक रेत (Natural Sand) में बड़े पदार्थ अपेक्षित होते है और इसीलिए कार्यस्थल पर छलने की जरूरत पड़ती है।

(f) समुद्री उत्पाद
पीसी हुई रेत (Crushed Sand) (उत्पादितरेत)-  इसमें कोई भी समुद्री उत्पाद नहीं होते हैं।
प्राकृतिक रेत (Natural Sand)- इसमें घास, शैवाल, चिकनी मिट्टी की गांठें हड्डियां, शंख, अभ्रक, वगैरह जैसे समुद्री उत्पाद हो सकते हैं, जो कंक्रीट के गुणों के लिए हानिकारक होते हैं।

(g) पर्यावरण अनुकूल
पीसी हुई रेत (Crushed Sand) (उत्पादितरेत)- प्राकृतिक रेत (Natural Sand) के मुकाबले यह पर्यावरण को कम नुकसान पहुंचाती है।
प्राकृतिक रेत (Natural Sand)- यह पर्यावरण के लिए हानिकारक है। यह भूजल के स्तर को घटाती है और इससे नदियों का पानी सूख जाता है।

(h) मिलावट
पीसी हुई रेत (Crushed Sand) (उत्पादितरेत)- कम मिलावट.
प्राकृतिक रेत (Natural Sand)- तीव्र कमी के कारण इसमें मिलावट की ज्यादा संभावना होती है। तटीय क्षेत्रों में खारी समुद्री रेत में नदी के रेत की मिलावट आम है।

03. उपयोग
पीसी हुई रेत (Crushed Sand) (उत्पादितरेत) – आरसीसी और ईंट/ब्लॉक के कार्यों के लिए इसकी अत्यधिक सिफारिश की जाती है।
प्राकृतिक रेत (Natural Sand) – आरसीसी, प्लास्टरिंग और ईंट/ब्लॉक कार्यों के लिए इसकी सिफारिश की जाती है।

04. गुणवत्ता

पीसी हुई रेत (Crushed Sand) (उत्पादितरेत) नियंत्रित वातावरण में विनिर्माण होने के कारण प्राकृतिक रेत (Natural Sand) के मुकाबले इसकी गुणवत्ता बेहतर होती है।
प्राकृतिक रेत (Natural Sand)- एक ही नदीतल में से होने के बावजूद प्राकृतिक रेत (Natural Sand) की गुणवत्ता भिन्न हो सकती है।

05. ग्रेडिंग क्षेत्र
पीसी हुई रेत (Crushed Sand) (उत्पादितरेत)- ग्रेडिंग क्षेत्र याने की Zone – II के अनुरूप इसका निर्माण किया जाता है।
प्राकृतिक रेत (Natural Sand)- यह ज्यादातर Zone – II और Zone – III के लिए अनुरूप होती है।

06. आयतन घनत्व
पीसी हुई रेत (Crushed Sand) (उत्पादितरेत)- 1.75 Kg/m3
प्राकृतिक रेत (Natural Sand) – 1.44 Kg/m3

07. विशिष्ट ग्रेविटी
पीसी हुई रेत (Crushed Sand) (उत्पादितरेत)- लगभग २.७३ (यह मूल चट्टान पर निर्भर करेगा।)
प्राकृतिक रेत (Natural Sand)- लगभग २.६५ (यह जलग्रह के क्षेत्र के पत्थरों पर निर्भर करेगा।)

08. फायदे
पीसी हुई रेत (Crushed Sand) (उत्पादितरेत)-

  • यह एक पर्यावरण अनुकूल पदार्थ है।
  • यह अलगाव, ब्लीडिंग, हनीकोम्बिंग, खालीपन, केपिलरी जैसी कमियों पर काबू पाकर कंक्रीट को उच्च टिकाऊपन और मजबूती देती है।
  • समान ग्रेडिंग वाली रेत उपलब्ध होती है।
  • उच्च संयोजन और संपीड़न शक्ति।
  • कंक्रीट/चुने की बेहतर गुणवत्ता।
  • स्लम्प (Slump) कम होता है
  • मोर्टार का जल अवरोधन कम होता है।
  • मिक्स डिजाइन के दौरान bulkage को सुधारने की जरूरत नहीं होती है।

प्राकृतिक रेत (Natural Sand)-  यह प्राकृतिक रूप में उपलब्ध है।

09. गैर फायदे
पीसी हुई रेत (Crushed Sand) (उत्पादितरेत)-

  • पीसी हुई रेत (Crushed Sand) की बनावट मोटी और कोणीय हो सकती है।
  • इससे अपेक्षित कार्यशीलता प्राप्त करने के लिए ज्यादा पानी और सीमेंट की जरूरत पड़ सकती है। पीसी हुई रेत (Crushed Sand) में बड़ी मात्रा में सूक्ष्म कण होते हैं। यह कंक्रीट की मजबूती पर असर कर सकता है।

प्राकृतिक रेत (Natural Sand)

  • रेत में तलछट और चिकनी मिट्टी की उपस्थिति सीमेंट के जमाव के समय को घटाता है, कंक्रीट और मोर्टार को कमजोर बनाता है, और साथ ही नमी भी रखता है।
  • सीमेंट की जरूरत ज्यादा होती है।
  • नदी से रेत खींचने के कारण जल टेबल (water table) का स्तर कम हो जाता है, जिसके कारण पेड़ की जड़ों को शायद पानी ना मिले।
  • नदी में रेत की गैर हाजरी के कारण सूर्य के सीधे प्रकाश से पानी वाष्पित हो जाता है।
  • स्लम्प (Slump) ज्यादा होता है।
  • मोर्टार का जल अवरोधन ज्यादा होता है।
  • मिक्स डिजाइन के दौरान bulkage को सुधारने की आवश्यकता होती है।
  • जहां नदी बहुत दूर होती है, वहां महंगी होती है।

10. कीमत
यह स्त्रोत, जैसे की नदी या खदान (quarry) की कार्यस्थल से दूरी पर निर्भर करेगा। लेकिन आखिरकार रेत पीसने के कारखानों(इसे विशेष कोल्हू की जरूरत होती है) की बढ़ती उपलब्धता के कारण वह नदी की प्राकृतिक रेत (Natural Sand) जितनी सस्ती हो जाएगी। आखिरकार रेत एक दुर्लभ पदार्थ है।

पीसी हुई रेत (Crushed Sand) का इस्तेमाल करने की सिफारिश की जाती है। यह प्राकृतिक रेत (Natural Sand) के लिए एक किफायती और पारिस्थितिक विकल्प है। पीसी हुई रेत में नदी के रेत के समान गुण ही होते हैं और यह अधिक टिकाऊ निर्माण सामग्री है। वैज्ञानिक रूप से, पीसी हुई रेत (Crushed Sand) का इस्तेमाल निर्माण उद्योग को नदी के रेत की कमी को दूर करने के लिए एक दीर्घकालीन समाधान प्रदान करेगा।