कोर्ट के फैसले से पहले निर्भया की मां बोली- रेप कहने के लिए दो शब्द लेकिन असर बहुत बड़ा

नई दिल्ली: नई दिल्ली : देश के बहुचर्चित और झकझोर देने वाले निर्भया गैंगरेप और हत्या के मामले में सुप्रीम कोर्ट आज शुक्रवार को फैसला सुनाएगा. कोर्ट का फैसला आने से पहले निर्भया की मां ने कहा कि पिछले 5 साल में कई बार खुद को टूटा हुआ महसूस किया, कई बार लगा की न्याय नहीं मिलेगा. लेकिन जिस दिन का हमें इंतजार था, इस दिन के लिए मैं सभी देशवासियों का धन्यवाद करती हूं. उन्होंने बात करते हुए कहा कि मेरी बेटी को कोई नहीं जनता था लेकिन इसके बाद भी लोगो ने उसका साथ दिया. देश में इतनी बड़ी घटना होने के बाद भी इस तरह के अपराध नहीं रुके.

साथ ही साथ निर्भया की मां ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार को ऐसे हादसों से फर्क नहीं पड़ता है, इस तरह के जघन्य अपराध पर कड़ा एक्शन लेना चाहिए. निर्भया की मां ने बात करते हुए कहा कि बलात्कार होने के बाद पीड़ित लड़की के परिवार को ही दोषी माना जाता है, कि हमने सही संस्कार नहीं दिया. लोग कहते हैं कि लड़की ने छोटे कपड़े पहने थे इसलिए रेप हो गया, लोगो को इसे लेकर अपनी मानसिकता बदलनी चाहिए. उन्होंने कहा कहने के लिए रेप सिर्फ दो शब्द है लेकिन इसका असर काफी बड़ा है.

बता दे कि निर्भया गैंगरेप और मर्डर मामले में फांसी की सजा पाए चारों मुजरिमों अक्षय ठाकुर, विनय शर्मा, पवन गुप्ता और मुकेश की ओर से हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ अपील की गई थी .इस अपील पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के बाद 27 मार्च को फैसला सुरक्षित रख लिया था. उधर निर्भया के पिता सुप्रीम कोर्ट से समाज को इंसाफ मिलने की उम्मीद है. आज आने वाले फैसले पर निर्भया के पिता ने बताया कि शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट से उन्हें इंसाफ मिलने की उम्मीद है.उन्हें विश्वास है कि इस मामले में न्याय मिलेगा. निर्भया पर जो भी अत्याचार हुआ था ,वह अत्याचार सिर्फ एक लड़की पर नहीं बल्कि समाज के खिलाफ किया गया अपराध था. इस मामले में पूरा देश एक साथ खड़ा हुआ.