नीतीश ने बाढ़ पर जताई चिंता, मदद के लिए पीएम का जताया आभार

पटना, (हि.स.)। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य के सीमांचल क्षेत्रों में आई भीषण बाढ़ में राहत और बचाव कार्य में सहायता देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद देते हुए स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर कहा कि उत्तर बिहार के 12 जिलों में 65 लाख की आबादी बाढ़ से प्रभावित है।

71 वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर राजधानी पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में झंडा फहराते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर बिहार में आई बाढ़ की विभीषिका को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से रविवार को बातचीत हुई और स्थिति को देखते हुए उन्होंने तत्काल आर्मी तथा नेशनल डिजास्टर रिस्पॉन्स फोर्स सहायता कार्यों के लिए उपलब्ध कराया।
अपने संबोधन में नीतीश कुमार ने बाढ़ की स्थिति पर चिंता व्यक्त करते हुए इसे फ्लैश फ्लड बताया और कहा कि उत्तर बिहार के 12 जिलों के सात प्रखंड बाढ़ से पूरी तरह प्रभावित हैं जबकि 24 प्रखंड आंशिक रूप से। उन्होंने कहा कि 889 पंचायतों के 6500000 लोग बाढ़ में घिरे हुए हैं और पूरे उत्तर बिहार में बाढ़ के कारण एक अप्रत्याशित स्थिति का सामना कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वायुसेना के दो हेलीकॉप्टर तथा सेना के 630 जवान राहत और बचाव कार्य में युद्धस्तर पर कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए 254 राहत शिविर बनाए गए हैं जहां लोगों को सभी तरह की राहत उपलब्ध कराई जा रही है। बाढ़ प्रभावित अंदरूनी क्षेत्रों में हेलीकॉप्टर के माध्यम से राहत सामग्री का वितरण किया जा रहा है।

नीतीश कुमार ने कहा कि अचानक आई अप्रत्याशित बाढ़ के कारण सड़क, पुल, पुलिया और बांध टूट गए हैं। उन्होंने कहा कि बाढ़ से हुए नुकसान का आंकलन बाद में किया जाएगा और प्रभावित लोगों को अनुदान भी दिया जाएगा।