अभियोजन कार्यो की समीक्षा बैठक आयोजित

#मुरादाबाद@ अभियोजन कार्यो की समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह ने अद्यतन प्रगति की जानकारी कर आवश्यक निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि सभी कोर्ट में दायर होने वाले वादों के सापेक्ष निस्तारण भी लगभग उसी संख्या में होने से लम्बित वाद नहीं रहेंगे।

इसी सोच के साथ सभी पीठासीन अधिकारी वादों के निस्तारण पर ध्यान दें। उन्होंने कहा कि अभियोजन अधिकारी और शासकीय अधिवक्ता इस सोच के साथ वादों का निस्तारण की पैरवी करें कि गवाहों की गवाही में कोई दिक्कत न हों और तामिला की कार्यवाही भी इस प्रकार की जाये कि अधिकांश पक्षकारों को तामिला हो जाये।

जिलाधिकारी ने गत माह के लम्बित वाद 15335 और इस माह के दायर वाद 188 के सापेक्ष निस्तारण को तत्परता से करने पर बल दिया। उन्होंने गम्भीर अपराध, गिरोहबंध अपराध एवं सामान्य अपराधों पर विस्तार से चर्चा की और कह कि अपराध की प्रकृति को ध्यान में रखकर निस्तारण कराया जाये।

जिलाधिकारी ने अभियोजन कार्यो की होने वाली बैठकों में सीएमओ एवं समाज कल्याण अधिकारी को भी बैठक में भाग लेने हुत सूचना देने के निर्देश दिये हैं। जिलाधिकारी ने कहा कि हम सबका दायित्व बनता है कि किसी भी निर्दोष को सजा न मिले और कोई दोषी सजा से न छूटे ऐसा वातावरण सबको मिलकर सृजित करना है ताकि समाज में भाईचारे का माहौल रहें। बैठक में अभियोजन अधिकारी ए0पी0ओ0, एस0पी0ओ0 एवं शासकीय अधिवक्तागण मौजूद रहें।