ऑस्कर अवॉर्डः मूनलाइट बनी सर्वश्रेष्ठ फिल्म

89वें ऑस्कर अवॉर्ड में मूनलाइट ने मारी बाजी, जीता सर्वश्रेष्ठ फिल्म का अवॉर्ड, लालालैंड ने जीते 6 अवॉर्ड
अमेरिका के कैलिफोर्निया स्थित लॉस एंजेलिस के डॉल्बी थिएटर में हुए 89वें अकादमी अवॉर्ड्स में इस साल दुनिया के सिनेमा में अपनी छाप छोड़ने वाली फिल्‍मों को कई श्रेणियों में पुरस्‍कारित किया गया।

सर्वश्रेष्ठ फिल्म का खिताब मूनलाइट ने अपने नाम किया। लेकिन इस बार ऑस्‍कर के मंच पर सर्वेश्रेष्‍ठ फिल्‍म की घोषणा एक बड़ी गलती का भी शिकार रही।

दरअसल शुरुआत में मंच से फिल्‍म ‘ला ला लैंड’ को सर्वश्रेष्‍ठ फिल्‍म घोषित कर दिया गया जिसके बाद इस फिल्‍म के प्रोड्यूसर और पूरी कास्‍ट स्‍टेज पर पहुंच गई। उन्‍हें ट्राॅफी भी दे दी गई कि अचानक यह अहसास हुआ कि यहां कुछ गलती हुई है। इसके बाद मंच पर आए प्रेजेंटरों ने कहा कि उनसे बालने में गलती हुई और दरअसल यह पुरस्‍कार फिल्‍म ‘मूनलाइट’ का है।

इस साल ऑस्‍कर अवॉर्ड्स में भारतीयों को भारतीय मूल के एक्‍टर देव पटेल से काफी उम्‍मीदें थीं लेकिन वह पहले ऑस्‍कर नोमिनेशन के दौरान यह पुरस्‍कार नहीं जीत सकें। वहीं कैसी एफलेक को फिल्‍म ‘मेनचेस्‍टर बाय द सी’ के लिए बेस्‍ट एक्‍टर का ऑस्‍कर पुरस्‍कार मिला। वहीं अभिनेत्री की बात करें तो इस साल सर्वेश्रेष्‍ठ एक्‍ट्रेस का यह पुरस्‍कार फिल्‍म ला ला लैंड के लिए एमा स्‍टोर ने जीता।

89वें ऑस्‍कर अवॉर्ड्स में जहां विओला डाविस को उनकी फिल्‍म ‘फेंस’ के लिए बेस्‍ट एक्‍ट्रेस का पुरस्‍कार मिला तो वहीं देव पटेल को पीछे छोड़ बेस्‍ट सपोर्टिंग एक्‍टर की श्रेणी में महेर्शाला अली बाजी मार गए।

इस साल की सबसे ज्‍यादा चर्चित फिल्‍म ‘ला ला लैंड’ को 14 श्रेणियों में नामांकित किया गया था। वहीं किसी पुरस्‍कार से पहले ही 20वीं बार बेस्‍ट एक्‍ट्रेस की श्रेणी में नामांकित होकर मेरिल स्‍ट्रीम पहले ही एक इतिहास रच चुकी हैं।