किसानों को योजनाओ का सीधा लाभ पहुंचाना हमारी प्राथमिकता- राज्य मंत्री उपेन्द्र तिवारी

इलाहाबाद (मंगलवार, 5 सितम्बर 2017) राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार), जल सम्पूर्ति, भूमि विकास एवं जल संसाधन, परती भूमि विकास, वन एवं पर्यावरण, जन्तु उद्यान, उद्यान एवं सहकारिता विभाग, उ.प्र. श्री उपेन्द्र तिवारी जी अपने इलाहाबाद भ्रमण कार्यक्रम के तहत आज विभागीय बैठक सरकिट हाउस में की। उन्होंने उद्यान विभाग की समीक्षा करते हुए उद्यान अधीक्षक को निर्देशित किया कि उद्यान विभाग से संचालित योजनाओं को किसानों तक पहुंचाया जाय। उन्होंने कहा कि किसानो को दी जाने वाली सब्सिडी सीधे किसानों को मिले।

उन्होंने भूमि विकास की समीक्षा करते हुए कहा कि तालाबों का अधिक से अधिक मात्रा में निर्माण किया जाय। उन्होंने कहा कि निर्मित तालाबों की वस्तुस्थिति की जानकारी लेने के लिए निरन्तर कार्यो की मानिटरिंग की जाय।
उन्होंने कहा कि स्वयं उनके द्वारा निरन्तर विभागों एवं कार्यो का निरीक्षण किया जा रहा है तथा लापरवाही करने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्यवाही भी की जा रही है। उन्होंने कहा कि किसी भी विभाग में भ्रष्टाचार की शिकायत न मिले।

उन्होने वसूली की शिकायत मिलने पर सम्बन्धित अधिकारियों एवं कर्मचारियो के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी।
मंत्री ने वन विभाग की समीक्षा करते हुए वन अधिकारी से रोपित किये गये पौधों का विवरण की जानकारी प्राप्त किये। रोपित किये गये पौधों का मंत्री के द्वारा कभी भी निरीक्षण किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा कि पेड़ काटने की शिकायतों पर कड़ी कार्यवाही करने के निर्देश वन अधिकारी को दिये।

उन्होंने कहा कि किसानों को लोन देने में बैंको की शाखाओं के अधिकारियों को निर्देशित किया कि किसानों को हितों को प्राथमिकता पर लेकर उनकी समस्याओं का निस्तारण किया जाय। उन्होने कहा कि स्वच्छता अभियान के संकल्प को हर कर्मचारी ईमानादारी से निर्वाहन करे। उन्होने कहा कि खाद्य एवं बीज की कमी न हो इसके लिए अधिकारी विशेष रूप से ध्यान रखे। उन्होंने कहा कि गांवो में चलाये जा रहे समूहों में योजनाओं का क्रियान्वयन समूहों में जुड़े हर व्यक्ति को मिले।