तहसील दिवस में सांसद एवं जिलाधिकारी ने किया जन समस्याओं का समाधान

मुरादाबाद@ जिलाधिकारी श्री राकेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में ठाकुरद्वारा तहसील में तहसील समाधान दिवस का आयोजन हुआ। तहसील समाधान दिवस में आईं विभिन्न विभागों की 56 शिकायतों को जिलाधिकारी ने गंभीरता से सुना एवं संबंधित अधिकारियों को समयबद्धता से गुणवत्ता पूर्ण एवं तथ्य परख समाधान करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने जोर देकर कहा कि तहसील में पंजीकृत हुईं हर शिकायत को संबंधित विभाग पूरी गंभीरता से लेकर उसका समाधान शिकायतकर्ता की आशा के अनुसार गुुणवत्ता पूर्ण करना सुनिश्चित करें। उन्होंने सचेत किया कि निस्तारण की गुणवत्ता को उच्च स्तर पर परखा जा रहा है इसके लिये जरुरी है कि समाधान वास्तविकता से किया जाये और एक ही शिकायतकर्ता को बार-बार न आना पडे़।

तहसील समाधान दिवस में सांसद श्री कुॅवर सर्वेश सिंह ने जन समस्याओं को गंभीरता से सुना और राशन संबंधी आ रही शिकायतों को देखते हुये पूर्ति विभाग को सचेत किया कि तत्परता से राशन संबंधी समस्याओं का निदान जन कल्याण की भावना से करना सुनिश्चित करें।

सांसद जी ने किसानों एवं ग्रामीणों द्वारा क्षेत्र में 10 घण्टे भी बिजली न आने की शिकायत को गंभीरता से लिया और कहा कि शासन के निर्णय के अनुरुप ग्रामीण क्षेत्र में भी रोस्टर के अनुरुप 16 से 18 घण्टे बिजली उपलब्ध कराने हेतु विधुत विभाग सभी व्यवस्थायें मुकम्मल करें और रोस्टर का अनुपालन करते हुये खराब ट्रान्सफार्मरों को शासन की निर्देशों के अनुरुप समय से बदलवाना सुनिश्चित करें। उन्होंने सभी विभागों से अपेक्षा की कि वह शासन की जन कल्याण की भावना के अनुरुप जन समस्याओं का समाधान पूरी वास्तविकता से करना सुनिश्चित करें।

तहसील दिवस में राजस्व, विकास, पुलिस, समाज कल्याण, पूर्ति, पेंशन, बिजली, हैण्डपम्प, पीडब्ल्यूडी, जल निगम सहित विभिन्न विभागों की 56 शिकायतें प्राप्त हुई जिसमें से एक का मौके पर ही निस्तारण कराते हुये तत्परता से त्वरित निस्तारण के निर्देश दिये और कई शिकायतों के समाधान के लिये टीमें गठित कर मौके पर भेजी गई।

जिलाधिकारी ने राशन एवं विधुत संबंधी शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए संबंधितों को सचेत किया कि वह वास्तविकता के साथ मौके पर जाकर शिकायतों को अवलोकित कर उसका समाधान जनकल्याण की दृष्टि से तत्परता से करें।
जिलाधिकारी ने बताया कि शासन की अवधारणा है कि सामान्य जनता की समस्याओं का निदान स्थानीय स्तर ही हो और जनता को अपनी छोटी-छोटी समस्याओं के लिए इधर-उधर न भटकना पडे। इसी उद्देश्य को पूरा करने के लिये तहसील स्तरों पर समाधान दिवस माह के प्रथम व तृतीय मंगलवार को आयोजित किया जा रहा है।

जिसमें सभी विभागों के अधिकारी एवं प्रतिनिधि अपने विभाग की समस्या का निदान करने के लिये पूरी तैयारी के साथ समाधान दिवस में उपस्थित होते हैं और अगले तहसील दिवस से पूर्व पंजीकृत हुईं सभी विभागों की शिकायतों का समाधान किया जाता है। जो शिकायते ऐसी होती है जिनका समाधान मौके पर ही हो सकता है जिला प्रशासन की पूरी कोशिश होती है कि उसका गुणवत्ता पूर्ण समाधान तहसील दिवस में ही हो जाये।