अमेरिका और चीन के बीच व्यापार संघर्ष पर विराम

इस ख़बर को शेयर करें:

अमेरिका और चीन ने दोनों देशों के बीच एक दूसरे की वस्तुओं पर लगाए आयात शुल्क पर फिलहाल रोक लगाने का किया फैसला । फैसले से दुनिया की दो बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के बीच व्यापार युद्ध टला। अमरीका और चीन दोनों देशों के बीच हर तरह के व्यापार संघर्ष समाप्त करने और एक दूसरे की वस्तुओं पर शुल्क न लगाने पर सहमत हो गए हैं।

वाशिंगटन में दूसरे दौर की बातचीत के बाद दोनों पक्षों ने एक संयुक्त बयान जारी कर एक-दूसरे के विरूद्ध व्यापार संघर्ष नहीं छेड़ने का भी संकल्प लिया। दोनों देशों ने इसे लेकर एक समझौता किया है जिसके तहत चीन अब अमेरिका से आयात बढ़ायेगा।

अमेरिकी वस्तुओं का आयात बढ़ाकर चीन 375 अरब डालर के अमेरिका के व्यापार घाटे को कम करने पर ध्यान देगा। संयुक्त बयान में कहा गया है कि चीनी जनता की खपत जरूरतों को पूरा करने तथा उच्च गुणवत्ता के आर्थिक विकास की जरूरत को पूरा करने के लिये चीन उल्लेखनीय मात्रा में अमेरिकी वस्तुओं और सेवाओं की खरीद करेगा।

इससे अमेरिका में वृद्धि तथा रोजगार को समर्थन मिलेगा। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने हाल ही में चेतावनी देते हुए कहा था कि अगर चीन उसके व्यापार घाटे में कमी नहीं लाता है तो चीनी वस्तुओं के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी।