माफिया ऑपरेशन : अतीक अहमद के एक और गुर्गे आबिद प्रधान की प्रॉपर्टी पर पीडीए का चला बुलडोजर

Tags:
इस ख़बर को शेयर करें:

ध्वस्तीकरण की कार्रवाई में नुकसान से बचने के लिए घरवाले और करीबियों ने मकान की खिड़की, दरवाजे और ग्रिल तक उखाड़ ले गए

प्रयागराज. सीएम योगी के निर्देश पर प्रदेश में बाहुबली व माफियाओं के खिलाफ ऑपरेशन माफिया चल रहा है. प्रयागराज में गुरुवार को बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद के खास गुर्गे और हार्डकोर क्रिमिनल आबिद प्रधान के खिलाफ कार्रवाई की गई. प्रयागराज विकास प्राधिकरण पीडीए ने गुरुवार को बड़ी कार्रवाई करके धूमनगंज थाना क्षेत्र के बमरौली लाल बिहारा में आबिद प्रधान के 700 वर्ग गज में बने दो मंजिला अवैध मकान ध्वस्त कर दिया. पीडीए ने तीन जेसीबी मशीनें से मकान को ध्वस्त किया है.

बता दें कि, प्रयागराज में आपरेशन माफिया के तहत पीडीए ने 36वीं बड़ी कार्रवाई है. जिसमें गुरुवार को बाहुबली अतीक अहमद के गुर्गे व हार्डकोर क्रिमिनल आबिद प्रधान का मकान ढहाया गया है. पीडीए के विशेष कार्याधिकारी सत शुक्ला ने बताया कि, आबिद प्रधान ने पीडीए से बगैर नक्शा स्वीकृत कराए अवैध रूप से करोड़ों की लागत से 2 मंजिला आलीशान मकान का निर्माण कराया था. जिसे पीडीए ने विधिक ध्वस्तीकरण आदेश पर जमींदोज कर दिया.

जेसीबी से घबराया माफिया आबिद

प्रदेश में चल रही बाहुबली और माफिया के खिलाफ चल रही कार्रवाई से माफियाओं में खलबली मची हुई है. गुरुवार को प्रयागराज में अजब नजारा देखने को मिला. जहां पर पीडीए की कार्रवाई से माफिया आबिद इतना खौफ में आ गया था कि जेसीबी मशीनों के पहुंचने से पहले घरवाले और करीबियों ने मकान खाली कर लिया था. इतना ही नहीं, आरोपी मकान की खिड़की, दरवाजे और ग्रिल तक उखाड़ ले गए. ताकि ध्वस्तीकरण की इस कार्रवाई में कुछ सामान को नुकसान से बचाया जा सके.

माफिया अतीक का आबिद करीबी

माफिया अतीक का आबिद करीबी है. उसके खिलाफ धूमनगंज समेत कई थानों में दो दर्जन से ज्यादा मुकदमे दर्ज हैं. इनमें हत्या, हत्या के प्रयास, रंगदारी और सरकारी व निजी जमीनों पर कब्जे के मामले शामिल हैं. आबिद प्रधान थाने का हिस्ट्रीशीटर भी है. इसके साथ ही आबिद प्रधान वर्ष 2005 में हुए बसपा विधायक राजू पाल हत्याकांड का भी मुख्य आरोपी है. आबिद प्रधान पर अपनी ही चचेरी बहन अलकमा और ड्राइवर सुरजीत की हत्या का भी आरोप है.